डीएम ने किया मातृ एवं शिशु कल्याण उपकेन्द्र खुर्पाताल का निरीक्षण, निहाल नाले का भी किया निरीक्षण

नैनीताल। जिलाधिकारी सविन बंसल ने गुरूवार को सरिताताल, रूसी बाईपास, निहाल नाले तथा मातृ एवं शिशु कल्याण उपकेन्द्र खुर्पाताल का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान सरिताताल एवं उसके आसपास गन्दगी देखकर कड़ी नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने सिंचाई विभाग के आला अधिकारियों को ताल के आसपास की तत्काल तथा ताल की सफाई 15 दिन के भीतर पूरी करने के निर्देश दिए। उन्होंनें सिंचाई विभाग के अधीक्षण अभियंता तथा अधिशासी अभियंता को चेतावनी जारी करते  हुए कहा कि यदि 15 दिन के भीतर ताल की संतोषजनक सफाई नहीं होती है तो सीआरपीसी की धारा 133 के अन्तर्गत कानूनी कार्यवाही करने के साथ ही विभागीय कार्यवाही भी अमल में लाई जायेगी। जिलाधिकारी श्री बंसल ने कार्यक्षेत्र छोड़ने सम्बन्धी जारी लिखित आदेशों की अवहेलना कर बिना बताए मुख्यालय छोड़ने व निरीक्षण की सूचना उपलब्ध होने के बाद भी निरीक्षण में अनुपस्थित रहने पर अधीक्षण अभियंता सिंचाई डीएस कुटियाल का एक दिन का वेतन काटने के निर्देश दिए। उन्होंने सरिताताल की सफाई के लिए पानी की निकासी करने तथा मजदूर लगाकर सफाई कराने के निर्देश देते हुए कहा कि सफाई करने के लिए किसी भी दशा में मशीनरी का उपयोग न किया जाए।जिलाधिकारी ने सरिता ताल में फैली अव्यवस्था पर सख्त नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि भविष्य में बोटिंग तथा दुकान का संचालन प्रशासन के नियंत्रण में किया जाए। उन्होंने अपर जिलाधिकारी प्रशासन, अधिशासी अधिकारी तथा एसएचओ की संयुक्त टीम गठित कर, गन्दगी फैलाने वाले ढ़ाबा संचालको, दुकानदारों का चालान काटने के निर्देश देते हुए कहा कि भविष्य में गन्दगी करने पर सम्बन्धित ढ़ाबा संचालकों की चालान की धनराशि में निरन्तर वृद्धि करने के भी निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने घोड़ों की लीद के कुछ अंश दिखाई देने पर मौके पर ही अपर जिलाधिकारी, अधिशासी अधिकारी नगर पालिका तथा एसएचओ की संयुक्त टीम गठित करते हुए तत्काल घोड़ा स्टैण्ड पर जाकर घोड़ों के मल निस्तारण की जाॅच करने और गन्दगी पाये जाने पर सम्बन्धित घोड़ा संचालकों का लाईसेन्स निरस्त करने, अवैध घोड़ा संचालन पर रोक लगाने के निर्देश दिए। उन्होंने रिजर्व फाॅरेस्ट से अवैध कब्जे हटाने के निर्देश वन विभाग तथा राजस्व विभाग के अधिकारियों को दिए। जिलाधिकारी ने खुर्पाताल, सरिताताल के क्षेत्रवासियों से सीधे संवाद करते हुए उनकी समस्याएं सुनी जिस पर जिलाधिकारी श्री बंसल ने खण्ड विकास अधिकारी तथा उप जिलाधिकारी को क्षेत्र में ग्राम पंचायत की खुली बैठक आयोजित कर झील से सम्बन्धित समस्याओं पर निर्णय कराने के निर्देश दिए। रूसी बाईपास रोड निरीक्षण के दौरान कुछ स्थानों पर कार्यों में गुणवत्ता खराब पाये जाने पर लोनिवि के अधिकारियों को फटकार लगाते हुए अगले निरीक्षण से पूर्व ही सभी स्थानों पर कमियाॅ दूर करने के निर्देश दिए। श्री बंसल ने लोनिवि के अधिकारियों को चेतावनी देते हुए कहा कि सड़क निर्माण कार्य में जो भी खामियाॅ हैं, उन्हें तत्काल दूर कर लिया जाए, अगले निरीक्षण में कमियाॅ पाए जाने पर रोड का थर्ड पार्टी आॅडिट कराया जाएगा। उन्होंने रूसी बाईपास की डिटेल प्रजेन्टेशन मंगलवार को प्रस्तुत करने के निर्देश अधीक्षण अभियंता तथा अधिशासी अभिंयता लोनिवि को दिए। उन्होंने रूसी बाईपास स्थित जल संस्थान के आॅक्सीडेशन प्लांट का निरीक्षण भी किया। निरीक्षण के दौरान पाया कि प्लांट में जो सीवरेज आ रहा है वह पूरी तरह से डी-कम्पोज नहीं हो रहा है। उन्होंने नए ट्रीटमेंट प्लांट का स्टेटस, सीवरेज फ्लो डायाग्राम आदि की विस्तृत विवरण मंगलवार को आयोजित होने वाली मीटिंग में प्रस्तुत करने के निर्देश अधीक्षण अभियंता जल संस्थान तथा जल निगम को दिए। उन्होंने निहाल नाला तथा रूसी बाईपास क्षेत्र में अवैध खनन रोकने के निर्देश राजस्व तथा पुलिस विभाग के अधिकारियों को दिए।निरीक्षण के दौरान अपर जिलाधिकारी केएस टोलिया, सचिव जिला विकास प्राधिकरण हरबीर सिंह, उप जिलाधिकारी विनोद कुमार, अधीक्षण अभियंता लोनिवि एनएस नबियाल, अधीक्षण अभियंता जल संस्थान एएस अंसारी, अधिशासी अभियंता संतोष कुमार उपाध्या, 

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *