एवरेस्ट फतह करने वाली अमीषा चैहान को सम्मानित किया

ऋषिकेश। टीएचडीसी इंडिया लिमिटेड (टीएचडीसीआईएल) के सी.एस.आर विभाग एवं टीएचडीसी लेडिज वेलफेयर ऐसोसिऐशन के संयुक्त तत्वाधान में विभिन्न सी.एस.आर गतिविधियों से सम्बन्धित सामग्री वितरण हेतु एक समारोह का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का शुभारभं टीएचडीसी लेडीज वेलफेयर ऐसोसिऐशन की मुख्य संरक्षिका सुनीता सिंह एवं अन्य पदाधिकारियों का अधिशासी निदेशक एच. एल. भारज एवं महाप्रबन्धक शैलेन्द्र सिंह द्वारा स्वागत कर किया गया। समारोह में  सुनीता सिंह द्वारा हाल ही में एवरेस्ट फतह करने वाली देहरादून निवासी अमीषा चैहान को सम्मानित किया गया। इस दौरान सुश्री अमीषा द्वारा एवरेस्ट फतह में आई कठिनाईयों को लेकर अपने अनुभव भी साझा किये गये। तत्पश्चात् सुनीता सिंह द्वारा चैखम्बा संस्था एवं आई.एम.ए. देहरादून के माध्यम से रक्त दान शिविर का उद्घाटन किया गया। रक्तदान शिविर में 60 यूनिट रक्त एकत्र किया गया। सुनीता सिंह मुख्य संरक्षिका टीएचडीसी लेडीज वेलफेयर एसोशिऐसन को आईएमए, दून के डा0 कमल साहू के द्वारा टीएचडीसी ऋषिकेश डिस्पेंसरी में रक्तदान शिविर आयोजित कर उनके सामाजिक योगदान के लिए सम्मानित किया। इस दौरान टीएचडीसी शिक्षा समिति के अंतर्गत संचालित स्कूल के छात्र-छात्राओं द्वारा सांस्कृतिक प्रस्तुतियां व विभिन्न संस्थाओं द्वारा टीएचडीसी की सी.एस.आर परियोजनाओं के तहत निर्मित उत्पादों का स्टालों के माध्यम से प्रदर्शन कार्यक्रम के विशेष आर्कषण रहे।
महिला क्लब की मुख्य संरक्षिका सुनीता सिंह व अन्य पदाधिकारियों ने टीएचडीसी द्वारा सी. एस. आर. के माध्यम से समाज के लिये किये जा रहे उत्कृष्ठ कार्यों की भूरी-भूरी प्रशंसा की गयी व इस कार्यों के सफल क्रियान्वयन हेतु योगदान देने वाले टीएचडीसी व सेवा-टीएचडीसी के पदाधिकारियों को भी सम्मानित किया। साथ ही महिला क्लब द्वारा टीएचडीसी की सीएसआर योजनाओं के क्रियान्वयन  हेतु भविष्य में भी अपनी सक्रिय भागीदारी हेतु आशवस्त किया गया।
समारोह में टीएचडीसी के अधिशासी निदेशक एच. एल. भारज द्वारा सी.एस.आर के तहत संचालित की जा रही प्रमुख परियोजनाओं का विवरण प्रस्तुत किया। श्री भारज ने अवगत कराया कि टीएचडीसी द्वारा 09 मई 2019 को प्रथम सीएसआर दिवस का आयोजन किया गया, जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में डीपीई, भारत सरकार के अपर सचिव मधुकर गुप्ता द्वारा प्रतिभाग किया गया। श्री भारज ने अपने उद्बोधन में टीएचडीसी एवं टिहरी जिला प्रशासन द्वारा संयुक्त रूप से टिहरी जिले के 40 केन्द्रों के माध्यम से संचालित की जा रही टेलीमेडिसिन परियोजना का विशेष रूप से उल्लेख किया, जिस पर टीएचडीसी अब तक एक करोड़ से भी अधिक धनराशि व्यय कर चुकी है। यह भी अवगत कराया गया कि उक्त परियोजना की सराहना भारत सरकार द्वारा भी की जा चुकी है व केन्द्र सरकार द्वारा टीएचडीसी एवं जिला प्रसाशन के सम्बन्धित अधिकारियों को पुरूष्कृत किया जा चुका है। टीएचडीसी के सीएसआर कार्यो से प्रभावित होकर 

माननीय मुख्यमं़त्री उत्तराखण्ड, ऊर्जा मंत्रालय एवं डीपीई भारत सरकार द्वारा उच्च प्रबन्धन को पत्र लिखकर टीएचडीसी द्वारा किये जा रहे सीएसआर कार्याें की सराहना की गयी है। डा0 जे0पी0 तिवारी, मुख्य कृषि अधिकारी, टिहरी के द्वारा अपने सम्बोधन में टीएचडीसी के साथ कृषि विभाग द्वारा संयुक्त रूप से संचालित परियोजनाओं का विवरण प्रस्तुत किया। डा0 तिवारी द्वारा समारोह के दौरान वितरण हेतु औषधीय प्रजाति के 400 पौधे सहजन, तुलसी, सिन्दूर एवं नीबू उपलब्ध करवाये गये। साथ ही डा0 तिवारी द्वारा उक्त पौधों के पोषण में महात्वपूर्ण योगदान के विषय में विस्तार से भी अवगत कराया गया।  
कार्यक्रम की अन्य गतिविधियों में महिला क्लब पदाधिकारियों सुनीता सिंह, मुदिता गोयल, चंचल विश्नोई, सागरिका बेहरा एवं रेनू जैन द्वारा टीएचडीसी शिक्षा समिति के माध्यम से संचालित स्कूल के मेधावी छात्रों व साथ ही सांस्कृतिक प्रस्तुतियां देने वाले छात्र-छात्राओं का पुरुस्कार देकर उत्साहवर्धन किया गया। टीएचडीसी द्वारा हितधारकों हेतु संचालित विभिन्न क्रियाकलापों से सम्बन्धित सामग्री का वितरण भी महिला क्लब पदाधिकारियों के माध्यम से सम्पादित किया गया।
टीएचडीसी के सामाजिक एवं पर्यावरण विभाग के महाप्रबन्धक शैलेन्द्र सिंह द्वारा महिला क्लब के पदाधिकारियों के कार्यक्रम में उपस्थित व सी.एस.आर. कार्यों में सक्रिय सहयोग हेतु धन्यवाद प्रेषित किया। इस अवसर पर पी.के. नैथानी, (अपर महाप्रबंधक), श्री के.के. सिंघल (अपर महाप्रबंधक), डाॅ डी. एल. भटट (उप महाप्रबंधक), श्री राजेश्वर गिरि (उप महाप्रबंधक), सुनील शाह (उप महाप्रबंधक) सहित महिला क्लब टी.एच.डी.सी. एवं सेवा-टीएचडीसी एवं सामाजिक एवं पर्यावरण विभाग के पदाधिकारी उपस्थित थे।

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *