विमान ईंधन कीमतों में कटौती से एयरलाइन कंपनियों को राहत

दिल्ली। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर तेल कीमतों में नरमी को देखते हुए घरेलू बाजार में एविएशन टरबाइन फ्यूल (एटीएफ) की कीमतों में बड़ी कटौती की गई है। सरकारी तेल विपणन कंपनियों ने सोमवार को विमान ईंधन कीमतों में 5.8 फीसदी की कटौती की, जिससे घरेलू बाजार में इसके दाम चार साल के निचले स्तर पर पहुंच गए। एटीएफ कीमतों में कमी से नकदी संकट से जूझ रही एयरलाइन कंपनियों को काफी राहत मिलेगी।

लगातार दूसरे महीने हुई कटौती

यह लगातार दूसरा महीना है जब एटीएफ कीमतों में कटौती की गई है। इसके बाद दिल्ली में एटीएफ के दाम 3,806.44 रुपये घटकर 61,200.36 रुपये प्रति किलोलीटर पहुंच गए हैं। सरकारी तेल कंपनियां हर महीने की एक तारीख को एटीएफ कीमतों में कटौती करती हैं। मुंबई में एटीएफ का दाम 64,946 रुपये से घटकर 61,199 रुपये प्रति किलोलीटर हो गया है। पिछले महीने एक जून को कंपनियों ने एटीएफ कीमतों में 61 रुपये प्रति किलोलीटर की मामूली कटौती की थी।

एक सेकेंड इतना लीटर खर्च होता है विमान ईंधन

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, हवाई जहाज प्रति सेकेंड में लगभग चार लीटर ईंधन खर्च करता है। अगर बात बोइंग 747 की करें तो यह एक मिनट की यात्रा के दौरान 240 लीटर ईंधन खर्च कर देता है। बोइंग की वेबसाइट के आंकड़ों के मुताबिक, बोइंग 747 विमान में 10 घंटे की उड़ान के दौरान 36,000 गैलन यानी 1,50,000 लीटर ईंधन का इस्तेमाल होता है। इस विमान में प्रति मील (12 लीटर प्रति किलोमीटर) लगभग पांच गैलन ईंधन जलता है।

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *