अच्छा लेखक कौन है एक अच्छा लेखक कैसे बनें?

Image result for writer quotes

D.NEWS DEHRADUN : आज यहाँ हिमालय के पहाड़ों में कितनी प्यारी धूप खिली हैI खिली-खिली धूप से मन भी खिल उठा है, और मेरे घर के ठीक सामने कुछ इजरायली यात्री चाय की चुस्कियां लेते हुए नॉवेल पढ़ रहे हैंI सर्दियों की दोपहर की गुनगुनी धूप में बैठकर पढ़ने से बेहतर और क्या हो सकता हैI अगर आप ने कभी ऐसा न किया हो तो एक बार इसे ज़रूर करके देखें, अच्छा लगेगाI

 कल के पत्र पर आपकी रचनाएं, और आपके उत्तर पढ़ कर काफ़ी ख़ुशी हुईI बहुतों ने वापस लिखा और बहुतों ने अपने अनुभव को योरकोट पर भी साझा किया, आप सबका धन्यवादI आपकी रचनाओं को पढने और उन पर अपनी प्रतिक्रिया देने की ख़ुशी ही अलग थीI आपमें से कई लेखकों ने मुझसे पूछा है कि बेहतर लेखक कैसे बनेंI मेरा ये पत्र आपके इसी प्रश्न का उत्तर हैI     

अच्छा लेखक कौन है?
सबसे पहली बात, कौन है अच्छा लेखक? एक अच्छा लेखक वो नहीं है जो अपनी लेखनी को भारी-भरकम शब्दों और बहुत ज़्यादा ज्ञान भरी बातों से सजाता हैI मेरे ख़याल में, एक अच्छा लेखक वो है जो दूसरों के मुकाबले ख़ुद को बहुत अच्छे से जानता हैI जो अपने मन के अनछुए पहलुओं से हमेशा वाकिफ़ रहता है, वो जो अपनी भावना और अपनी कल्पना को सहजता के साथ व्यक्त कर सकेI अच्छा वही है जो हमारे अन्दर हैI कोई बाहरी शिक्षक आपको आपके अपने जीवन के उन स्वाभाविक क्षणों का निचोड़ नहीं दे सकताI और जो ये लेखन की निष्कपटता है, उसे एक लेखक को ख़ुद ही खोजना पड़ेगा, कोई और आपकी मदद नहीं कर सकताI

एक अच्छा लेखक कैसे बनें?जब आप अपनी उस आवाज़ को पहचान लेते हैं, जो सिर्फ़ आपकी है, तब उस आवाज़ को और बेहतर बनाने के लिए ज़रूरी है कि आप ख़ुद को उन सभी ज़रूरी साधनों से सुसज्जित कर लें, ताकि आपकी आवाज़ सुनी जा सकेI और यहाँ पर, हम सबके पास एक ऐसा शिक्षक है जो किसी भी मानव से बेहतर हैI वो है – पढ़नाI    
 एक लेखक के लिए पढने से अच्छा कुछ भी नहीं हैI लिखने की ही तरह, पढ़ना भी एक निजी कार्य हैI हर व्यक्ति हर कहानी की विवेचना एक अलग ही तरह से करता है, अपने जीवन के पहलुओं को उस लेखक के जीवन के साथ जोड़ता है, और यहीं पर किसी और के शब्द उसके ख़ुद के बन जाते हैंI जब हम क्रिकेट देखते-देखते, कुछ महान  खिलाड़ियों की तकनीक और स्टाइल सीख लेते हैं, या फिर जब हम अपने पसंदीदा गायक को सुनकर उसकी तरह ही गाने की कोशिश करते हैं, ठीक ऐसे ही पढ़ते-पढ़ते हम अपनी लेखनी में भी उन महान लेखकों की शैली को समाहित कर लेते हैंI

 

एक लेखक की तरह कैसे पढ़ें?

हम सब ने कुछ न कुछ पढ़ा है, ग़ालिब के शे’र, प्रेमचंद की कहानियों से लेकर, शायद कॉलेज में एक बेस्ट-सेलिंग रोम-कोम तक, लेकिन एक लेखक के लिए पढ़ना इस से कहीं ज़्यादा हैI पर एक लेखक पढता क्यों है?  

 

अगर इस सवाल का उत्तर एक वाक्य में देना हो, तो इतना कहूँगा कि एक लेखक वही पढ़ता है, जो लेखक पढ़ते हैंI आइए इसे समझते हैंI जब आप एक किताब पढ़ लेते हैं जिसको पढ़ने का सुझाव आपको आपके दोस्त ने दिया था, तब आप क्या करते हैं? एक और नई किताब पढ़ना शुरू कर देते हैं – शायद कोई बेस्टसेलरI   


मेरी मानें तो यहीं पर रुक जाएँI एक किताब से दूसरी, दूसरी से तीसरी पे मत जाएँI इसकी जगह, पढ़ने की परिधीय प्रक्रिया का पालन करेंI एक किताब जिसे अभी-अभी आपने पढ़ा है, और वह आपको अच्छी लगी है तो कुछ समय निकाल कर उस लेखक के बारे में जानने की कोशिश करें, जिसने यह किताब लिखी हैI उनके साक्षात्कार पढ़ें, YouTube पर उनकी बातें सुनेंI उन पर दूसरे लेखकों द्वारा लिखे गए लेख पढ़ेंI उनके बारे में अधिक से अधिक जानने की कोशिश करें, जानें कि वो क्या पढ़ते हैं, किन लेखकों को अपना प्रेरणा-स्रोत मानते हैंI जब आप ऐसा कर रहे होंगे, तब आप पाएंगे कि आपने ज्ञान के एक ऐसे सागर का पता लगा लिया है जो साधारण पाठकों की नज़रों से छुपा हुआ हैI आपका साहित्य संग्रह दिन प्रतिदिन अनोखी और अद्भुत किताबों से बढ़ता रहेगाI वो किताबें जो आपके पसंदीदा लेखकों ने पढ़ीं नाकि किसी बेस्टसेलर्स जमा करने वाले द्वारा बताई गयींI अब जब आपके पास इतना बड़ा खज़ाना है, तब आपको कौन रोक सकता है उनके जितना अच्छा बनने से?

    

अपनी पसंदीदा किताब के बारे में योरकोट पर के साथ ज़रूर लिखेंI मैं उन्हें पढने की पूरी कोशिश करूँगाI और आप उन किताबों के लेखकों के बारे में भी जानने की कोशिश करेंI और अगर आपको क्या पढ़ना चाहिए पर सुझाव की ज़रुरत महसूस हो तो ज़रूर लिखेंI मुझे इंतज़ार रहेगाI

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *