आज मुख्यमंत्री तीरथ दिखाएंगे : पार्टी की ताकत सल्ट विधानसभा उपचुनाव में भाजपा प्रत्याशी के लिए करेंगे प्रचार

बीजेपी सांसद तीरथ सिंह उत्तराखंड के नए मुख्मंत्री बनेंगे. BJP MP Tirath  Singh Rawat to become new chief minister of Uttarakhand.
मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत

देहरादून : सल्ट विधानसभा के उपचुनाव में प्रचार के आखिरी दिन खासा रोचक होने जा रहा है। सीएम तीरथ सिंह रावत और पूर्व सीएम हरीश रावत अपने अपने प्रत्याशियों के पक्ष में जनता से समर्थन और वोट मांगते नजर आएंगे। यह चुनाव दोनों रावतों की प्रतिष्ठा से जुड़ चुका है। जहां सीएम पार्टी के दिग्गज नेताओं के साथ एक जनसभा में शामिल होंगे। वहीं रावत तीन अलग जगहों जनसभाएं करने जा रहे हैं।

तीरथ सिंह रावत, सीएम: भाजपा के दिगज्जों के साथ सल्ट में गरजेंगे तीरथ 
सीएम गुरुवार सुबह 11.20 बजे सहस्त्रधारा हेलीपैड से हेलीकॉप्टर से सल्ट रवाना होंगे। वहां देघाट, भरसाली मैदान हैलीपैड पर उतरेंगे। वहां से 12.30 बजे सीएम सीधा जनसभा स्थल पहुंचेंगे। इस कार्यक्रम में प्रदेश प्रभारी दुष्यंत कुमार गौतम, प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक, केंद्रीय मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक, पूर्व सीएम विजय बहुगुणा भी रहेंगे। कार्यक्रम में शामिल होने के बाद दोपहर 2.20 बजे वापस हेलीकॉप्टर से देहरादून लौटेंगे। 10 मार्च को मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद तीरथ की यह पहली राजनीतिक परीक्षा है। चुनाव का नतीजा तीरथ की प्रतिष्ठा से जुड़ा हुआ है। इस चुनाव का नतीजा प्रदेश में नेतृत्व परिवर्तन के फैसले पर जनता की राय होगा और साथ ही भविष्य में वर्ष 2022 में होने वाले चुनावों पर भी असर डालेगा।

हरीश रावत, पूर्व सीएम: रावत तीन जगहों से भरेंगे चुनावी हुंकार
सीएम तीरथ सिंह रावत से ठीक एक घंटा पहले पूर्व सीएम रावत सहस्त्रधारा हेलीपैड से हेलीकाप्टर से सल्ट के लिए उडान भरेंगे। रावत वहां कल सबह 11.30 बजे सुबह पोखरी, दोपहर1.30 बजे हरड़ा मौलिखाल और अपराह्न 3.30 बजे छयाड़ी बगड़ स्यालदे में जनसभा करेंगे। सल्ट का चुनाव रावत के लिए बेहद महत्वपूर्ण हो चुका है। कांग्रेस प्रत्याशी गंगा पंचौली को टिकट कराने में रावत की अहम भूमिका रही है। इस वजह से पूर्व विधायक और प्रबल दावेदार रणजीत सिंह रावत, उनका पुत्र सल्ट ब्लॉक प्रमुख विक्रम रावत चुनाव से दूरी बनाए हुए हैं। पिछले काफी समय से रावत विस चुनाव से पहले सीएम का चेहरा तय करने की मांग भी करते आ रहे हैं। सल्ट का नतीजा उनके राजनीतिक भविष्य के लिहाज से भी काफी अहम हो गया है। यही वजह है कि कोरोना से गंभीर रूप से बीमार रहने के बावजूद रावत थोड़ा स्वस्थ होते ही सल्ट चल पड़े हैं।देहरादून

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *