Breaking News

आबादी में गुलदार की धमक से दहशत में लोग, हाथियों ने भी किया जीना मुहाल

आबादी में गुलदार की धमक से दहशत में लोग, हाथियों ने भी किया जीना मुहाल
देहरादून के रायवाला और डोर्इवाला में गुलदार के साथ ही हाथियों का आतंक भी देखने को मिल रहा है। गुलदार के आबादी में आने से लोगों में दहशत है।

D. NEWS DEHRADUN: राजाजी टाइगर रिजर्व से सटे रिहायशी क्षेत्रों में आए दिन गुलदार की धमक से लोग दहशत में हैं। हरिपुरकलां के शिवम एनक्लेव में एक गुलदार आ घुसा। लोगों ने इसकी सूचना वन विभाग को दी। सूचना पर वन कर्मियों ने मौका मुआयना किया। लोगों ने क्षेत्र में पिंजरा लगाने की मांग की है।

दरअसल, रायवाला स्थित शिवम एनक्लेव के पास एक खाली प्लाट में सोमवार शाम एक गुलदार आकर बैठ गया। झाड़ियों से गुर्राने की आवाज सुनकर लोगों को गुलदार के होने का पता चला। जैसे ही लोगों की भीड़ बढ़ने लगी तो गुलदार वहां से निकलकर जंगल की तरफ भाग गया। स्थानीय लोगों ने बताया कि शाम को करीब साढ़े सात बजे गुलदार खाली प्लॉट में घात लगाकर बैठा था, गनीमत रही कि लोगों को इसका पता चल गया।

ग्राम प्रधान सतेंद्र धमांदा ने इसकी सूचना वन विभाग को दी और क्षेत्र में कॉलोनी में पिंजरा लगवाने की मांग की है। वहीं सूचना पर वन कर्मियों ने मौका मुआयना कर लोगों को सावधानी बरतने की की हिदायत दी है।

हाथी ने तोड़ी पुल की रेलि

वहीं, बड़कोट वन रेंज के अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्रों में हाथियों का उत्पात जारी है। रात को जंगल से आबादी क्षेत्र में घुसे हाथियों के झुंड ने रानीपोखरी में जाखन नदी की पुल की रेलिंग और सीमेंट के पिलर तोड़ दिए।

आपको बता दें कि बड़कोट वन रेंज हाथियों से प्रभावित इलाका है। जंगल की सीमा से सटे इलाकों में हाथियों का आवागमन लगा रहता है। बीती रात हाथियों का झुंड रानीपोखरी के पुल से निकलकर दूसरे जंगल की और चला गया। लेकिन इस दौरान हाथियों के झुंड ने पूल पर बनी लोहे की रेलिंग व सीमेंट के पिलर तोड़े दिए। बड़कोट के पूर्व प्रधान पुष्पराज बहुगुणा ने बताया कि रेलिंग टूटने से इस मार्ग पर चलने वाले राहगीरों व वाहन चालकों के लिए भी खतरा बढ़ गया है। पूर्व उप प्रमुख नवीन चौधरी व पूर्व जिला पंचायत सदस्य मालती चौहान ने लोक निर्माण विभाग से पुल की रेलिंग जल्द दुरुस्त करने की मांग की है।

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *