Breaking News

इस महिला एथलीट को मदद की दरकार, मां बीमार खुद चलने से लाचार

इस महिला एथलीट को मदद की दरकार, मां बीमार खुद चलने से लाचार
महिला एथलीट गरिमा जोशी गंभीर हालत में कर्नाटक मनेपाल के कस्तूरबा गांधी मेडिकल कॉलेज में भर्ती हैं। गरिमा इलाज के लिए सरकार से गुहार लगा रही हैं।

बंग्लुरू में बीती 27 मई को इंटरनेशनल एसोसिएट ऑफ एथलेटिक्स फेडरेशन की ओर से हाफ मैराथन का आयोजन किया गया था। जिसमें गरिमा जोशी ने प्रतिभाग करते हुए छठा स्थान प्राप्त किया था। गरिमा जोशी 31 मई को बंग्लुरू में प्रैक्टिस से लौटते वक्त एक वाहन की टक्कर से गंभीर रूप से घायल हो गईं। जिससे उनकी रीढ़ की हड्डी में फ्रैक्चर आया है। गरिमा के पिता पूरन जोशी ने फोन पर बताया कि हाफ मैराथन के बाद वह मनेपाल कैंप में 15 दिन का प्रशिक्षण ले रही थीं।

इस दौरान मैदान से बाहर निकलते वक्त किसी वाहन ने उन्हें टक्कर मार दी। जहां से उन्हें कस्तूरबा गांधी मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया। पूरन जोशी ने बताया कि एक तरफ उनकी पत्नी ने दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में कैंसर के इलाज के दौरान अपना पैर गंवा दिया। अभी तक उनका इलाज चल रहा है।

उन्होंने बताया कि वह किसी तरह से परिवार का गुजारा करते हैं। उनके अनुसार, डॉक्टरों ने बताया है कि अगले छह माह तक के इलाज के बाद ही उनके स्वास्थ्य के बारे में कुछ कहा जा सकेगा। बताया कि मैराथन में जाने के लिए मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने गरिमा को 25000 रुपये की मदद राशि दी थी, जिससे वह वहां खेलने जा पाई।
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *