उत्तरकाशी जिले के ग्राम कंकराड़ी, मांडों और निराकोट में कल देर शाम मूसलाधार बारिश के साथ बादल फटने से हुआ भारी नुकसान

देहरादून: उत्तरकाशी जिले के ग्राम कंकराड़ी, मांडों और निराकोट में कल देर शाम मूसलाधार बारिश के साथ बादल फटने से भारी नुकसान हुआ है। बादल फटने के कारण कई घर मलवे की चपेट में आ गए। वहीं, 4 से 5 मकान जमींदोज हो गए हैं। हालांकि घटना के बाद देर रात से ही उत्तराखण्ड पुलिस की रेस्कयू टीमें… राहत, खोज और बचाव कार्य में जुटी हुई हैं। अभी तक 3 शव बरामद किए जा चुके हैं जिनमें दो महिलाओं और एक बच्ची का शव शामिल है। हालात का जायजा लेने पहुंचे जिलाधिकारी मयूर दीक्षित ने बताया कि राहत और बचाव कार्यों के साथ ही रास्ते खोलने और बिजली बहाल करने का कार्य तीव्र गति से चल रहा है। उन्होंने जानकारी दी कि लोगों को राशन उपलब्ध कराया जा रहा है। साथ ही जिला अस्पताल में इमरजेंसी सेवा से लेकर सभी तरह की व्यवस्थाएं चाक चौबंद बनाये रखने के लिये स्वास्थ्य महकमे को निर्देश दे दिए गए हैं। वहीं मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने घटना पर दुख व्यक्त करते हुए ईश्वर से मृतकों की आत्मा की शांति और शोक संतप्त परिवार को धैर्य प्रदान करने की प्रार्थना की है। मुख्यमंत्री ने घटना की जानकारी मिलते ही उत्तरकाशी के जिलाधिकारी से फोन पर बात की और आवश्यक दिशा निर्देश दिए। उन्होंने ज़िला प्रशासन को राहत और बचाव कार्य शीर्ष प्राथमिकता पर करने के निर्देश दिए।श्री धामी ने कहा कि प्रभावितों को अनुमन्य सहायता राशि अविलंब उपलब्ध कराई जाए। इसके साथ ही उन्होने प्रदेश के विभिन्न स्थानों पर हो रही अतिवृष्टि को देखते हुए सभी जिलाधिकारियों को सतर्क रहने के निर्देश दिये। वहीं राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने उत्तरकाशी जिला प्रशासन, एस.डी.आर.एफ और पुलिस प्रशासन के माध्यम से राहत एवं बचाव कार्यों को शीर्ष प्राथमिकता पर करने के निर्देश दिए। उन्होंने प्रभावितों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की है।

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *