उत्तराखंड में दिखा ताउते तूफान का असर नौ जिलों में कल भारी बारिश की चेतावनी, मौसम विभाग ने जारी किया रेड अलर्ट

देहरादून: मौसम विभाग ने गुरुवार को भी राज्य के नौ जिलों में भारी से बहुत भारी बारिश का रेड अलर्ट जारी किया है। गोवा, मुंबई के बाद गुजरात के तटों से होता हुआ ताउते तूफान का असर उत्तर और पूर्व में भी देखा गया। इसके असर से राज्य के अधिकांश हिस्सों में दिनभर बारिश होती रही। मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक, 20 मई को राज्य के उत्तरकाशी, चमोली, बागेश्वर, अल्मोड़ा, नैनीताल, चंपावत, ऊधमसिंहनगर, रुद्रप्रयाग, पिथौरागढ़ आदि जिलों में कहीं-कहीं भारी से बहुत भारी बारिश की आशंका है। राज्य के कुछ स्थानों में गर्जन के साथ आकाशीय बिजली चमकने और तीव्र बौछार की भी आशंका है। मैदानी क्षेत्रों में कहीं-कहीं झोंकेदार हवा 30 से 40 किलोमीटर की रफ्तार से चल सकती हैं। संवेदनशील इलाकों में भूस्खलन, चट्टान गिरने, सड़कों के अवरुद्ध होने, पहाड़ों में नदी-नालों का प्रवाह अचानक बढ़ने और निचले इलाकों में जलभराव के लिए प्रशासन एवं लोगों को अलर्ट रहने को कहा गया है। 

मौसम विभाग के वैज्ञानिक रोहित थपलियाल के अनुसार, 21 कई को भी राज्य में बारिश होगी। पिथौरागढ़, बागेश्वर, अल्मोड़ा, चम्पावत, नैनीताल जिलों में कहीं-कहीं गर्जन के साथ आकाशीय बिजली चमकने की आशंका है। बारिश का सिलसिला 22 और 23 मई के बाद भी जारी रह सकता है। समुद्र तटीय इलाकों में जमकर कहर बरपाने के बाद ताउते तूफान का रुख उत्तर पूर्व की ओर रहा और इसका पूरा असर हिमाचल, जम्मू, समेत उत्तराखंड पर भी रहा। बुधवार को राज्य में तपोवन, गरुड़, मसूरी, भगवानपुर, धनौरी, गंगोलीहाट, नई टिहरी, लैंसडौन, नैनीताल, पौड़ी, ऋषिकेश, थलीसैंण, जखोली समेत कई अन्य कस्बों में अच्छी बारिश दर्ज की गई। बारिश होने से इन जगह के तापमान में भी गिरावट आई है। 

ताउते के कमजोर पड़ने का अनुमान
मौसम विभाग के अनुसार, सौराष्ट्र से होता हुआ चक्रवाती तूफान उत्तर पूर्व की ओर बढ़ रहा है और पिछले छह घंटों के दौरान इसकी गति 11 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार रही। हालांकि उत्तर-पूर्वोत्तर की ओर बढ़ते हुए ताउते तूफान के कमजोर पड़ने का अनुमान है।

दो दिन से दून में छाई धुंध, दिनभर बारिश
ताउते के असर से मौसम में आए बदलाव के कारण दून में बुधवार को दिन भर बारिश होती रही। सुबह हल्की बूंदाबांदी का सिलसिला देर शाम तक जारी रहा। आपात स्थिति में आवाजाही करने वाले लोगों को इससे परेशानी का सामना करना पड़ा। दून में ऐसा समय बहुत समय के बाद आया कि एक ही रफ्तार से हल्की बारिश होती रही। लगातार बारिश के चलते दून मा तापमान पिछले 24 घंटों में 13 डिग्री सेल्सियस तक गिर गया। बुधवार को दून का अधिकतम तापमान 25.3 डिग्री सेल्सियस रहा, जो सामान्य से दस डिग्री कम रहा। जबकि न्यूनतम तापमान 22.6 डिग्री सेल्सियस रहा, जो सामान्य से दो डिग्री अधिक था। अधिकतम और न्यूनतम तापमान में सिर्फ तीन डिग्री का अंतर भी लंबे समय बाद देखने का मिला। मौसम विभाग के अनुसार दून में अगले चार-पांच दिन आसमान में आंशिक या पूरी तरह बादल छाए रह सकते हैं। हालांकि गुरुवार को अन्य पर्वतीय जिलों की तरह दून में भी भारी से भारी बारिश की चेतावनी है। आपदा प्रबंधन कंट्रोल रूम को भारी बारिश के रेड अलर्ट के चलते सक्रिय रहने को कहा गया है। 21 के बाद दून में बारिश के आसार नहीं हैं। 

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *