उत्तराखण्ड महासंघ ने जिलाधिकारी देहरादून के द्वारा सौंपा भारत सरकार को ज्ञापन।

डी. न्यूज़ देहरादून आज उत्तराखंड महासंघ ने समाज में भारत की बेटियों के साथ हो रहा अत्याचार की दुर्घटनाओं के निरन्तर बढ़ रही है। जिसको संघान में लेते हुये महासंघ बहुत चिंतित व क्षुब्ध है। जिसके कारण महासंघ आपकी सेवा में निम्नलिखित मांगों को लेकर ज्ञापन प्रेषित कर  रहा  है। ताकि भविष्य में ऐसी दुर्घटनाये दुवारा न घटे एवं भारत की बेटियों को सुरक्षा प्रदान की जा सके। इसमें सर्वप्रथम संबधित सरकारी कर्मचारियों को ऐसे प्रशिक्षण एवं हिदायत दी जाये की उनके क्षेत्रो में इस तरह की दुर्घटनाओं पर अंकुश लग सके बार बार इन दुर्घटनाओं   की पुनरावृति ना हो और भारत की सभी बेटियों को समान रूप से उन्हे न्याय मिले तथा एक  समान रूप से ही मुआवजा भी मिलना चाहिये। एक ऐसी नियमवाली तैयार की जाये। जिससे समान घटना या दुर्घटना पर एक समान तरह का मुआवजा दिया जाये।ताकि उसमे एक समरूपता हो। भारत के हर राज्य की बेटी व प्रत्येक जाति या समाज की बेटी को समरूपता से देखते हुये। महासंघ समान न्याय व समान मुआवजा की अपेक्षा करता है। भारत की दो बेटियों नेहा जनपद पौड़ी उत्तराखंड एवं संजली जनपद आगरा उत्तर प्रदेश की बेटियों को जिन्दा जलाकर हत्या कर  दी  गई जो कि  एक जघन्य अपराध है।  परन्तु सरकार द्वारा इनके परिजनों को उचित मुवाअजा नहीं दिया गया। इनके परिजनों को भी निर्भया के समान मुवाअजा दिया जाये एवं अपराधियों के विरुद्ध त्वरित कार्यवाही की जाये। ज्ञापन भारत सरकार को जिलाधिकारी के द्वारा सौंपा गया। इसमें महासंघ के सभी पदाधिकारी व सदस्य उपस्थित रहे।

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *