Breaking News

छठ महापर्व: निर्जला व्रत रख मनाया खरना, 13 नवंबर को सार्वजनिक अवकाश घोषित

छठ महापर्व: निर्जला व्रत रख मनाया खरना, 13 नवंबर को सार्वजनिक अवकाश घोषित

D.News Dehradun: छठ महापर्व के तहत सोमवार को खरना मनाया गया। दिनभर निर्जला व्रत के बाद व्रतियों ने गुड़ की खीर और रोटी का प्रसाद ग्रहण किया। इसके बाद 36 घंटे का निर्जला व्रत शुरू किया। व्रती 13 नवंबर को डूबते हुए सूरज और 14 नवंबर को उगते हुए सूरज को अर्घ्य देंगे। दून में टपकेश्वर महादेव मंदिर परिसर में छठ पूजा के लिए मुख्य रूप से घाट बनाए गए हैं। बिहारी महासभा की ओर से यहां विशेष तैयारियां और सजावट की गई हैं। वहीं, प्रशासन ने मंगलवार को छठ का अवकाश घोषित किया है।

खरना के दिन व्रतियों ने घरों और छठ घाट पर वेदी पूजन किया। निर्जल व्रत शुरू करने से पहले प्रसाद के रूप में चावल और गुड़ से बनी खीर और रोटी ग्रहण किया। मंगलवार को घरों में विशेष रूप से ठेकुआ और कसार आदि बनाए जाएंगे। पंडित विनोद झा ने बताया कि सोमवार को खरना की खीर खाने के बाद अब श्रद्धालु बुधवार सुबह अर्घ्य देने के बाद ही पानी या अन्य कुछ ग्रहण करेंगे। शाम को श्रद्धालु बांस के सूप, टोकरी में ठेकुआ, कसार, ईख, केले, पत्तों सहित हल्दी और मूली आदि रखकर पूजा स्थल पर आएंगे।

पार्किंग के लिए की गई व्यवस्था

बिहारी महासभा के अध्यक्ष सतेंद्र सिंह ने बताया कि छठ पूजा के लिए टपकेश्वर मंदिर में करीब 15 हजार की भीड़ जुटने की संभावना है। इसके लिए पार्किंग की उचित व्यवस्था की गई है। करीब दो से तीन हजार वाहनों की पार्किंग की व्यवस्था मंदिर परिसर में की गई है।

यहां हो रहे आयोजन

दून में विभिन्न स्थानों पर छठ पूजा की जाएगी। इसके लिए चंद्रबनी, प्रेमनगर, रायपुर, माल देवता, चाय बागान, नत्थनपुरा, पुलिया नंबर छह, हरबंश वाला, सिंघल मंडी, काठ बंगला आदि जगहों पर भी घाट तैयार किए गए हैं।

बाजारों में रही भीड़

छठ पूजा के लिए पूजन सामग्री, सूप, डाला, टोकरा, कपड़े, शृंगार सामग्री, फल, सब्जी आदि की खरीददारी को बाजार में भीड़ उमड़ी रही। झंडा बाजार में खरीददारी को लेकर खासी रौनक रही।

स्वास्थ्य सुविधाओं के किए इंतजाम

छठ व्रतियों के लिए पूजन स्थल पर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराई गई हैं। पूर्वा सांस्कृतिक मंच की ओर से घाटों पर डॉक्टरों की व्यवस्था की गई है। मंच के कार्यकारी अध्यक्ष डॉक्टर एसके झा ने बताया कि मंच से करीब सौ से अधिक डॉक्टर जुड़े हुए हैं। वह विभिन्न घाटों पर अपनी सेवाएं देंगे। महासचिव सुभाष झा ने बताया कि सभी छठ घाटों पर तैयारियां पूरी कर ली गर्ई हैं। डॉक्टर अमरकांत झा, एमएन सिंह, शंभूनाथ झा, निवेदिता झा, ज्योत्सना झा, रीता झा आदि अपना सहयोग दे रहे हैं।

छठ पूजा पर बिहारी समुदाय का होगा सम्मान

ग्रामीण विकास समिति की ओर से छठ पूजा पर बिहारी समुदाय का सम्मान किया जाएगा। समिति के अध्यक्ष कुंवर सिंह ने कहा कि प्रेमनगर में टोंस नदी पर छठ पूजन किया जाएगा। इसमें समिति की ओर से बिहारी समुदाय का फूल माला से स्वागत किया जाएगा।

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *