पयार्वरण, वन एवं जलवायु परिवतर्न मंत्रालय ’आजादी का अमृत महोत्सव’ समारोह मनायेगा


देहरादून: (देवभूमि जनसंवाद न्यूज़) एकल उपयोग प्लास्टिक एक गंभीर वैश्विक पयार्वरणीय चिंता का विषय है क्योंकि यह पानी, मिट्टी और हवा को प्रदूषित कर रहा है। पयार्वरण, वन एवं जलवायु परिवतर्न मंत्रालय को ’आजादी का अमृत महोत्सव’ समारोह के अंतगर्त निदशर्नात्मक एवं प्रभावशाली आयोजन के लिए 4 से 10 अक्टूबर 2021 के सप्ताह को आइकॉनिक सप्ताह के रूप में आयोजित करने के लिए आवंटित किया गया है, माननीय प्रधान मंत्री के 2022 तक एकल-उपयोग प्लास्टिक को समाप्त करने के आह्वान को ध्यान में रखते हुए आइकॉनिक सप्ताह समारोह के लिए ’एकल-उपयोग प्लास्टिक के उपयोग के परिवजर्न के लिए जागरूकता कायर्क्रम’ को एक विषय निधार्रित किया गया है।
एकल उपयोग प्लास्टिक के उपयोग से बचने हेतु जागरूकता उत्पन्न करने के लिए भा.वा.अ.शि.प. पूरे देश में अभियान आयोजित कर रहा है। आयोजनों की इस कड़ी में डॉ. विनीत कुमार, वैज्ञानिक- जी, भा.वा.अ.शि.प. द्वारा 07.10.2021 को ‘पयार्वरणीय सुरक्षा हेतु एकल उपयोग प्लास्टिक के उपयोग से परिवजर्न’ विषय पर व्याख्यान दिया। इस अवसर पर श्री ए.एस. रावत, महानिदेशक, भा.वा.अ.शि.प. ने इस विषय का प्रारंभ किया और व.अ.सं. परिसर को 2022 तक कचरा मुक्त परिसर बनाने का आह्वान किया।
डाॅ. सुधीर कुमार, उप महानिदेशक (विस्तार), विस्तार निदेशालय ने सभी प्रतिभागियों का स्वागत किया। इस अवसर पर श्री एस.डी. शमार्, उप महानिदेशक (अनुसंधान), श्री आर.के. डोगरा, उप महानिदेशक (प्रशासन), श्री अनुराग भारद्धाज, निदेशक (अंतरार्ष्ट्रीय सहयोग) एवं समस्त सहायक महानिदेशक, सचिव, भा.वा.अ.शि.प., वैज्ञानिक, अधिकारी, एवं कामिर्क उपस्थित थे।
डाॅ. गीता जोशी, सहायक महानिदेशक (मीडिया एवं विस्तार), भा.वा.अ.शि.प. ने कायर्क्रम का संचालन एवं धन्यवाद प्रस्ताव प्रस्तुत किया।

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *