पेट्रोल लेकर खोखे की छतों में चढ़े व्यापारी, उड़ेला पेट्रोल और दी जान देने की धमकी

रुद्रप्रयाग में खोखे हटाने के विरोध में प्रदर्शन करते आक्रोशित व्यापारी

D. NEWS DEHRADUN: रुद्रप्रयाग में वर्षों से खोखों में अपना कारोबार कर रहे व्यापारियों को हटाने के लिए आई प्रशासन और पुलिस की टीम को व्यापारियों के विरोध का सामना करना पड़ा। छह खोखे तोड़ने के बाद व्यापारी आक्रोशित हो गए। करीब 5 घंटे तक आक्रोशित व्यापारियों और लोगों ने बवाल किया। व्यापारी ने पेट्रोल लेकर खोखे की छतों में चढ़ गए। जब पुलिस उतारने लगी तो दो व्यापारियों ने खुद पर पेट्रोल उड़ेल लिया। केंद्र सरकार की नमामि गंगे योजना में शहर में सीवर ट्रीटमेंट प्लान एसटीपी का काम चल रहा है। प्रशासन का कहना है कि योजना के निर्माण में यहां बने खोखे हटाए जाने हैं।  प्रशासन ने इसके लिए 12 खोखों को चिन्हित किया है।  इनमें 6 को हटा दिया गया है। बुधवार 12 बजे जेसीबी के साथ तहसीलदार, राजस्व उप निरीक्षक और कोतवाली निरीक्षक फोर्स सहित जैसे ही खोखे हटाने मौके पर पहुंचे तो व्यापारी भड़क गए। हालांकि इस बीच 6 खोखों को हटा दिया गया किंतु इसके बाद कार्रवाई का विरोध होने लगा।  व्यापारियों के समर्थन में यूथ कांग्रेस के जिलाध्यक्ष संतोष रावत, लक्षमण बिष्ट, राय सिंह बिष्ट, बंटी जगवाण, छात्र संघ अध्यक्ष नीरज कप्रवान सहित कई और लोग पहुंच गए। पीड़ित व्यापारियों के पक्ष में प्रदर्शन कर रहे लोग रुद्रप्रयाग विधायक, सांसद, जिपंअ और व्यापार संघ अध्यक्ष के खिलाफ नारेबाजी करने लगे। चार व्यापारी पेट्रोल की बोतलें लेकर छत पर चढ़ गए और यहां प्रदर्शन करने लगे। कोतवाली निरीक्षक ने जैसे ही छत में चढ़े व्यापारियों को उतारने का प्रयास किया तो दो व्यापारियों ने बोतल से अपने ऊपर पेट्रोल छिटक दिया।  इस बीच एसडीएम देवानंद, तहसीलदार श्रेष्ठ गुनसोला, सीओ श्रीधर बडोला आदि ने व्यापारियों को समझाने का काफी प्रयास किया किंतु व्यापारी नहीं माने और प्रदर्शन करते रहे। बाद में सड़क पर धरने पर बैठ गए। इधर प्रशासन और पुलिस द्वारा पूरी फोर्स को मौके पर बुलाया गया।

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *