Breaking News
भारत की स्वतंत्रता के 75 वें वर्ष (आज़ादी का अमृत महोत्सव) के उपलक्ष्य में, वन अनुसंधान संस्थान (FRI), देहरादून के रसायन एवं जैव पूर्वेक्षण प्रभाग एवं एसोसिएशन ऑफ कार्बोहाइड्रेट केमिस्ट एंड टेक्नोलॉजिस्ट, इंडिया (ACCTI) के संयुक्त तत्वावधान में दिनांक 4 दिसम्बर 2021 को “एडवांसेज इन केमिस्ट्री एंड बायोलॉजी ऑफ़ कार्बोहाइड्रेट्स” विषयक दो दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन (कार्बो XXXV) का शुभारम्भ हुआ

मलिन बस्तियों को हक दिलाने के लिए यूकेडी देगी धरना

मलिन बस्तियों को हक दिलाने के लिए यूकेडी देगी धरना
उत्तराखंड क्रांति दल मलिन बस्ती वासियों को उनका मालिकाना हक दिलाने के लिए सरकार के खिलाफ धरना देगी।

देहरादून D.NEWS : उत्तराखंड क्रांति दल ने मलिन बस्तियों को लेकर भाजपा-कांग्रेस पर जमकर हमला बोला। उक्रांद का कहना है कि सरकार मलिन बस्तियों को वोट बैंक की तरह इस्तेमाल कर रही है। अध्यादेश लाकर जनमानस को गुमराह किया जा रहा है।

कचहरी रोड स्थित उक्रांद कार्यालय में पत्रकारों से वार्ता करते हुए उक्रांद के केंद्रीय महामंत्री जय प्रकाश ने कहा कि उक्रांद मलिन बस्तियों को मालिकाना हक देने की पक्षधर है। उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर भाजपा-कांग्रेस पिछले कई वर्षो से लोगों को गुमराह कर रही है। अब इस मुद्दे पर राजनीति की जा रही है। उक्रांद इसको लेकर मलिन बस्तियों के लोगों को जागरूक करेगी। तब तक संघर्ष किया जाएगा जब तक मलिन बस्तियों को मालिकाना हक नहीं मिल जाता। इसी मसले पर महानगर कार्यकारिणी पांच अगस्त को घंटाघर स्थित स्व. इंद्रमणि बडोनी की प्रतिमा पर धरना देगी।

उपाध्याय ने कहा कि अतिक्रमण अभियान के नाम पर भी महज औपचारिकता की जा रही है। राजपुर रोड पर ही कई बड़े प्रतिष्ठान इस जद में हैं, पर कार्रवाई नहीं की जा रही। मुख्यमंत्री रिस्पना से ऋषिपर्णा अभियान चला रहे हैं और रिस्पना पर ही बेधड़क खनन चल रहा है। इसके खिलाफ चार अगस्त को जिलाधिकारी कार्यालय पर प्रदर्शन किया जाएगा।

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *