वन अनुसंधान संस्थान, देहरादून के वनपाल स्मारक में माननीय मंत्री, वन, पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा शहीद वनपालों को पुष्पांजलि 

देहरादून, (देवभूमि जनसंवाद न्यूज़) वनपाल स्मारक उन वनपालों के सर्वोच्च बलिदान का एक प्रतिनिधि है, जिन्होंने सेवा के दौरान हमारी प्राकृतिक विरासत अर्थात् हमारे जंगलों और उनकी अंतर्निहित जैव विविधता के संरक्षण के लिए बहुमूल्य वन संपदा की रक्षा में अपने जीवन का बलिदान दिया।
आज 29 अप्रैल, 2022 को, श्री भूपेंद्र यादव, माननीय मंत्री, पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय, भारत सरकार, नई दिल्ली ने वनपाल स्मारक का दौरा किया और उन सभी प्यारे शहीदों को पुष्पांजलि अर्पित की, जिन्होंने मूल्यवान वनों ओर वन्यजीवों की सुरक्षा के लिए अपनी जान गंवाई। श्री सी पी गोयल, महानिदेशक वन एवं विशेष सचिव, श्री ए॰ एस॰ रावत, महानिदेशक, भारतीय वानिकी अनुसंधान एवं शिक्षा परिषद (आईसीएफआरई), श्री एस॰ पी॰ यादव, अतिरिक्त महानिदेशक (वन संरक्षण), श्री विभास रंजन, अतिरिक्त महानिदेशक (वन्य जीव), डॉ. सुनीश बक्सी वन महानिरीक्षक (अनुसंधान एवं प्रशिक्षण), और डॉ. रेणु सिंह, निदेशक, वन अनुसंधान संस्थान (एफआरआई), देहरादून ने भी शहीदों को पुष्पांजलि अर्पित की।
कार्यक्रम के दौरान भारतीय वानिकी अनुसंधान एवं शिक्षा परिषद और वन अनुसंधान संस्थान के वरिष्ठ अधिकारी और वैज्ञानिक, इंदिरा गांधी राष्ट्रीय वन अकादमी के संकाय सदस्य और परिवीक्षाधीन वन अधिकारी , केंद्रीय राज्य वन सेवा अकादमी, देहरादून के प्रधानाचार्य और प्रशिक्षु उपस्थित थे।


FLORAL TRIBUTE BY HON’BLE MINISTER, MOEF & CC AT FORESTERS MEMORIAL, FOREST RESEARCH INSTITUTE, DEHRADUN
[29TH APRIL, 2022]

The Foresters Memorial is a representative of the supreme sacrifice of Foresters who laid down their lives in the line of duty for conservation of our natural heritage namely our forests and their inherent biodiversity. Today on 29th April, 2022, Shri Bhupender Yadav, Hon’ble Minister, Ministry of Environment, Forests & Climate Change, Government of India, New Delhi visited the Foresters Memorial and offered floral tribute to all beloved Martyrs who lost their life for protection of forests and wildlife in the country. He was accompanied by Sh. C P Goyal, Director General of Forests & Special Secretary, MoEF&CC, Sh. A. S. Rawat, Director General, Indian Council of Forestry Research & Education (ICFRE), Sh. S.P. Yadav, ADG(FC) MoEF&CC, Shri Vibhas Ranjan, ADG(WL), MoEF&CC, Dr. Suneesh Buxi, IGF(RT), MoEF&CC, and Dr. Renu Singh, Director, Forest Research Institute (FRI), Dehradun and other officers who also offered their floral tributes to the martyrs.

Senior officers and scientists of ICFRE and FRI, faculty and probationers of Indira Gandhi National Forest Academy(IGNFA), Principal, faculty and trainees of Central Academy for State Forest Service(CASFOS), Dehradun were present on the occasion.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *