वन अनुसंधान संस्थान, देहरादून द्वारा दिनांक 22 एवं 23 जुलाई को संस्थान परिसर तथा केन्द्रीय विद्यालय, भारतीय सेन्य अकादमी ने वन महोत्सव का आयोजन किया गया

देहरादून: (देवभूमि जनसंवाद न्यूज़ ) वन अनुसंधान संस्थान, देहरादून द्वारादिनांक 22 एवं 23 जुलाई को संस्थान परिसर तथा केन्द्रीय विद्यालय, भारतीय सेन्य अकादमी मेंं वन महोत्सव का आयोजन किया गया। वन महोत्सव-2021

आज 23 जुलाई 2021 को कार्यक्रम के मुख्य अतिथि भारतीय वानिकी अनुसंधान एवं शिक्षा परिषद के महानिदेशक श्री अरुण सिंह रावत, भा.व.से. ने केन्द्रीय विद्यालय, आई0एम0ए0 के प्रांगण में पुत्रजीवक (पुतरनजीवा) का पौधा रोपित कर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया। प्रभाग प्रमुख, विस्तार प्रभाग श्रीमती ऋचा मिश्रा, भा.व.से. ने स्वागत करते हुए मुख्य अतिथि को आमंत्रित किया। श्री रावत में अपने सम्बोधन में वन अनुसंधान संस्थान एवं परिषद के अंतर्गत कार्यरत अन्य संस्थानों द्वारा वानिकी के क्षेत्र में किए कार्यों की सराहना की। उन्होंने बताया कि परिषद द्वारा वन अनुसंधान संस्थान तथा अन्य संस्थानों के माध्यम से चलाए जा रहे प्रकृति कार्यक्रम के तहत केन्द्रीय विद्यालय एवं जवाहर नवोदय विद्यालय के छात्र छात्राओं को वानिकी के क्षेत्र में हो रहे नवीन अनुसंधान कार्यों के बारे में जानकारी प्रदान की जाती है और उन्हें संस्थान का भ्रमण करवा कर वानिकी के प्रति निरंतर जागरूक किया जा रहा है। इसके साथ ही छात्रों को ज्ञान वर्धन हेतु प्रतियोगिताओं का आयोजन भी किया जाता है। मीनाक्षी जैन, उपायुक्त, केन्द्रीय विद्यालय संगठन ने भी सभी को संबोधित किया और संस्थान द्वारा किए जा रहे प्रयासों की सराहना की साथ ही उन्होंने पौध रोपण में भी भाग लिया। श्री मामचंद, प्रधानाचार्य एवं केन्द्रीय विद्यालय और उनकी प्रबंधन टीम ने कार्यक्रम के संयोजन करने में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।
22 जुलाई को संस्थान परिसर के वैज्ञानिक छात्रावास में श्री एस.डी. शर्मा, उप महानिदेशक ;अनुसंधान;, भारतीय वानिकी अनुसंधान एवं शिक्षा परिषद् ने मुख्य अतिथि के तौर पर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया। कार्यक्रम के प्रारम्भ में प्रभाग प्रमुख, विस्तार प्रभाग श्रीमती ऋचा मिश्रा, भा.व.से. ने कार्यक्रम में आए सभी अधिकारियों एवं वैज्ञानिकों का स्वागत किया तथा कार्यक्रम के मुख्य अतिथि को सम्बोधन हेतु आमंत्रित किया। श्री शर्मा ने अपने सम्बोधन में वन महोत्सव की महत्ता पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि वनों के संरक्षण में हम सभी का योगदान होना चाहिए। उन्होंने पौधा रोपण का शुभारम्भ एक आम का पौधा पौधा लगाकर किया। इसके अलावा उपस्थित अतिथियों श्रीमती कंचन देवी, उप महानिदेशक ;शिक्षा;, श्री दीपक मिश्रा, भा.व.से. सचिव, भारतीय वानिकी अनुसंधान एवं शिक्षा परिषद्, श्री रामपाल सिंह, प्रमुख, वन संवर्धन एवं प्रबंधन प्रभाग एवं अन्य प्रभाग प्रमुखों वैज्ञानिकां एवं अधिकारियों द्वारा भी पौध रोपण किया गया।

संस्थान की कार्यक्रम प्रबंध्ांन टीम जिसमें विस्तार प्रभाग एवं वन संवर्धन एवं प्रबंधन प्रभाग के अधिकारियों वैज्ञानिकों और अन्य कर्मचारियों ने कार्यक्रम को सफल बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।वन महोत्सव-2021
वन अनुसंधान संस्थान, देहरादून द्वारा दिनांक 22 एवं 23 जुलाई को संस्थान े परिसर तथा केन्द्रीय विद्यालय, भारतीय सेन्य अकादमी मेंं वन महोत्सव का आयोजन किया गया।
आज 23 जुलाई 2021 को कार्यक्रम के मुख्य अतिथि भारतीय वानिकी अनुसंधान एवं शिक्षा परिषद के महानिदेशक श्री अरुण सिंह रावत, भा.व.से. ने केन्द्रीय विद्यालय, आई0एम0ए0 के प्रांगण में पुत्रजीवक (पुतरनजीवा) का पौधा रोपित कर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया। प्रभाग प्रमुख, विस्तार प्रभाग श्रीमती ऋचा मिश्रा, भा.व.से. ने स्वागत करते हुए मुख्य अतिथि को आमंत्रित किया। श्री रावत में अपने सम्बोधन में वन अनुसंधान संस्थान एवं परिषद के अंतर्गत कार्यरत अन्य संस्थानों द्वारा वानिकी के क्षेत्र में किए कार्यों की सराहना की। उन्होंने बताया कि परिषद द्वारा वन अनुसंधान संस्थान तथा अन्य संस्थानों के माध्यम से चलाए जा रहे प्रकृति कार्यक्रम के तहत केन्द्रीय विद्यालय एवं जवाहर नवोदय विद्यालय के छात्र छात्राओं को वानिकी के क्षेत्र में हो रहे नवीन अनुसंधान कार्यों के बारे में जानकारी प्रदान की जाती है और उन्हें संस्थान का भ्रमण करवा कर वानिकी के प्रति निरंतर जागरूक किया जा रहा है। इसके साथ ही छात्रों को ज्ञान वर्धन हेतु प्रतियोगिताओं का आयोजन भी किया जाता है। मीनाक्षी जैन, उपायुक्त, केन्द्रीय विद्यालय संगठन ने भी सभी को संबोधित किया और संस्थान द्वारा किए जा रहे प्रयासों की सराहना की साथ ही उन्होंने पौध रोपण में भी भाग लिया। श्री मामचंद, प्रधानाचार्य एवं केन्द्रीय विद्यालय और उनकी प्रबंधन टीम ने कार्यक्रम के संयोजन करने में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।
22 जुलाई को संस्थान परिसर के वैज्ञानिक छात्रावास में श्री एस.डी. शर्मा, उप महानिदेशक ;अनुसंधान;, भारतीय वानिकी अनुसंधान एवं शिक्षा परिषद् ने मुख्य अतिथि के तौर पर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया। कार्यक्रम के प्रारम्भ में प्रभाग प्रमुख, विस्तार प्रभाग श्रीमती ऋचा मिश्रा, भा.व.से. ने कार्यक्रम में आए सभी अधिकारियों एवं वैज्ञानिकों का स्वागत किया तथा कार्यक्रम के मुख्य अतिथि को सम्बोधन हेतु आमंत्रित किया। श्री शर्मा ने अपने सम्बोधन में वन महोत्सव की महत्ता पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि वनों के संरक्षण में हम सभी का योगदान होना चाहिए। उन्होंने पौधा रोपण का शुभारम्भ एक आम का पौधा पौधा लगाकर किया। इसके अलावा उपस्थित अतिथियों श्रीमती कंचन देवी, उप महानिदेशक ;शिक्षा;, श्री दीपक मिश्रा, भा.व.से. सचिव, भारतीय वानिकी अनुसंधान एवं शिक्षा परिषद्, श्री रामपाल सिंह, प्रमुख, वन संवर्धन एवं प्रबंधन प्रभाग एवं अन्य प्रभाग प्रमुखों वैज्ञानिकां एवं अधिकारियों द्वारा भी पौध रोपण किया गया।

संस्थान की कार्यक्रम प्रबंध्ांन टीम जिसमें विस्तार प्रभाग एवं वन संवर्धन एवं प्रबंधन प्रभाग के अधिकारियों वैज्ञानिकों और अन्य कर्मचारियों ने कार्यक्रम को सफल बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।वन महोत्सव-2021
वन अनुसंधान संस्थान, देहरादून द्वारा दिनांक 22 एवं 23 जुलाई को संस्थान े परिसर तथा केन्द्रीय विद्यालय, भारतीय सेन्य अकादमी मेंं वन महोत्सव का आयोजन किया गया।
आज 23 जुलाई 2021 को कार्यक्रम के मुख्य अतिथि भारतीय वानिकी अनुसंधान एवं शिक्षा परिषद के महानिदेशक श्री अरुण सिंह रावत, भा.व.से. ने केन्द्रीय विद्यालय, आई0एम0ए0 के प्रांगण में पुत्रजीवक (पुतरनजीवा) का पौधा रोपित कर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया। प्रभाग प्रमुख, विस्तार प्रभाग श्रीमती ऋचा मिश्रा, भा.व.से. ने स्वागत करते हुए मुख्य अतिथि को आमंत्रित किया। श्री रावत में अपने सम्बोधन में वन अनुसंधान संस्थान एवं परिषद के अंतर्गत कार्यरत अन्य संस्थानों द्वारा वानिकी के क्षेत्र में किए कार्यों की सराहना की। उन्होंने बताया कि परिषद द्वारा वन अनुसंधान संस्थान तथा अन्य संस्थानों के माध्यम से चलाए जा रहे प्रकृति कार्यक्रम के तहत केन्द्रीय विद्यालय एवं जवाहर नवोदय विद्यालय के छात्र छात्राओं को वानिकी के क्षेत्र में हो रहे नवीन अनुसंधान कार्यों के बारे में जानकारी प्रदान की जाती है और उन्हें संस्थान का भ्रमण करवा कर वानिकी के प्रति निरंतर जागरूक किया जा रहा है। इसके साथ ही छात्रों को ज्ञान वर्धन हेतु प्रतियोगिताओं का आयोजन भी किया जाता है। मीनाक्षी जैन, उपायुक्त, केन्द्रीय विद्यालय संगठन ने भी सभी को संबोधित किया और संस्थान द्वारा किए जा रहे प्रयासों की सराहना की साथ ही उन्होंने पौध रोपण में भी भाग लिया। श्री मामचंद, प्रधानाचार्य एवं केन्द्रीय विद्यालय और उनकी प्रबंधन टीम ने कार्यक्रम के संयोजन करने में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।
22 जुलाई को संस्थान परिसर के वैज्ञानिक छात्रावास में श्री एस.डी. शर्मा, उप महानिदेशक ;अनुसंधान;, भारतीय वानिकी अनुसंधान एवं शिक्षा परिषद् ने मुख्य अतिथि के तौर पर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया। कार्यक्रम के प्रारम्भ में प्रभाग प्रमुख, विस्तार प्रभाग श्रीमती ऋचा मिश्रा, भा.व.से. ने कार्यक्रम में आए सभी अधिकारियों एवं वैज्ञानिकों का स्वागत किया तथा कार्यक्रम के मुख्य अतिथि को सम्बोधन हेतु आमंत्रित किया। श्री शर्मा ने अपने सम्बोधन में वन महोत्सव की महत्ता पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि वनों के संरक्षण में हम सभी का योगदान होना चाहिए। उन्होंने पौधा रोपण का शुभारम्भ एक आम का पौधा पौधा लगाकर किया। इसके अलावा उपस्थित अतिथियों श्रीमती कंचन देवी, उप महानिदेशक ;शिक्षा;, श्री दीपक मिश्रा, भा.व.से. सचिव, भारतीय वानिकी अनुसंधान एवं शिक्षा परिषद्, श्री रामपाल सिंह, प्रमुख, वन संवर्धन एवं प्रबंधन प्रभाग एवं अन्य प्रभाग प्रमुखों वैज्ञानिकां एवं अधिकारियों द्वारा भी पौध रोपण किया गया।

संस्थान की कार्यक्रम प्रबंध्ांन टीम जिसमें विस्तार प्रभाग एवं वन संवर्धन एवं प्रबंधन प्रभाग के अधिकारियों वैज्ञानिकों और अन्य कर्मचारियों ने कार्यक्रम को सफल बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।वन महोत्सव-2021
वन अनुसंधान संस्थान, देहरादून द्वारा दिनांक 22 एवं 23 जुलाई को संस्थान े परिसर तथा केन्द्रीय विद्यालय, भारतीय सेन्य अकादमी मेंं वन महोत्सव का आयोजन किया गया।
आज 23 जुलाई 2021 को कार्यक्रम के मुख्य अतिथि भारतीय वानिकी अनुसंधान एवं शिक्षा परिषद के महानिदेशक श्री अरुण सिंह रावत, भा.व.से. ने केन्द्रीय विद्यालय, आई0एम0ए0 के प्रांगण में पुत्रजीवक (पुतरनजीवा) का पौधा रोपित कर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया। प्रभाग प्रमुख, विस्तार प्रभाग श्रीमती ऋचा मिश्रा, भा.व.से. ने स्वागत करते हुए मुख्य अतिथि को आमंत्रित किया। श्री रावत में अपने सम्बोधन में वन अनुसंधान संस्थान एवं परिषद के अंतर्गत कार्यरत अन्य संस्थानों द्वारा वानिकी के क्षेत्र में किए कार्यों की सराहना की। उन्होंने बताया कि परिषद द्वारा वन अनुसंधान संस्थान तथा अन्य संस्थानों के माध्यम से चलाए जा रहे प्रकृति कार्यक्रम के तहत केन्द्रीय विद्यालय एवं जवाहर नवोदय विद्यालय के छात्र छात्राओं को वानिकी के क्षेत्र में हो रहे नवीन अनुसंधान कार्यों के बारे में जानकारी प्रदान की जाती है और उन्हें संस्थान का भ्रमण करवा कर वानिकी के प्रति निरंतर जागरूक किया जा रहा है। इसके साथ ही छात्रों को ज्ञान वर्धन हेतु प्रतियोगिताओं का आयोजन भी किया जाता है। मीनाक्षी जैन, उपायुक्त, केन्द्रीय विद्यालय संगठन ने भी सभी को संबोधित किया और संस्थान द्वारा किए जा रहे प्रयासों की सराहना की साथ ही उन्होंने पौध रोपण में भी भाग लिया। श्री मामचंद, प्रधानाचार्य एवं केन्द्रीय विद्यालय और उनकी प्रबंधन टीम ने कार्यक्रम के संयोजन करने में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।
22 जुलाई को संस्थान परिसर के वैज्ञानिक छात्रावास में श्री एस.डी. शर्मा, उप महानिदेशक ;अनुसंधान;, भारतीय वानिकी अनुसंधान एवं शिक्षा परिषद् ने मुख्य अतिथि के तौर पर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया। कार्यक्रम के प्रारम्भ में प्रभाग प्रमुख, विस्तार प्रभाग श्रीमती ऋचा मिश्रा, भा.व.से. ने कार्यक्रम में आए सभी अधिकारियों एवं वैज्ञानिकों का स्वागत किया तथा कार्यक्रम के मुख्य अतिथि को सम्बोधन हेतु आमंत्रित किया। श्री शर्मा ने अपने सम्बोधन में वन महोत्सव की महत्ता पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि वनों के संरक्षण में हम सभी का योगदान होना चाहिए। उन्होंने पौधा रोपण का शुभारम्भ एक आम का पौधा पौधा लगाकर किया। इसके अलावा उपस्थित अतिथियों श्रीमती कंचन देवी, उप महानिदेशक ;शिक्षा;, श्री दीपक मिश्रा, भा.व.से. सचिव, भारतीय वानिकी अनुसंधान एवं शिक्षा परिषद्, श्री रामपाल सिंह, प्रमुख, वन संवर्धन एवं प्रबंधन प्रभाग एवं अन्य प्रभाग प्रमुखों वैज्ञानिकां एवं अधिकारियों द्वारा भी पौध रोपण किया गया।

संस्थान की कार्यक्रम प्रबंध्ांन टीम जिसमें विस्तार प्रभाग एवं वन संवर्धन एवं प्रबंधन प्रभाग के अधिकारियों वैज्ञानिकों और अन्य कर्मचारियों ने कार्यक्रम को सफल बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *