वन अनुसंधान संस्थान में मनाया गया विश्व ओजोन दिवस


देहरादून : (देवभूमि जनसंवाद न्यूज़) वन अनुसंधान संस्थान (सम विश्वविद्यालय), प्रचार और जन संपर्क कार्यालय तथा एफआरआई देहरादून के एनविस रिसोर्स सेंटर के संयुक्त तत्वावधान में संस्थान में आज दिनांक 16 सितंबर को विश्व ओजोन दिवस मनाया गया। श्री अरुण सिंह रावत, महानिदेशक, आईसीएफआरई एवं कार्यक्रम के मुख्य अतिथि ने अपने उद्घाटन भाषण के दौरान ओजोन परत के महत्व और सूर्य की किरणों के हानिकारक हिस्से से पृथ्वी की रक्षा करने में इसकी भूमिका पर जोर दिया, जिसके कारण इस ग्रह में जीवन संभव हो पाया है। उन्होंने यह भी कहा कि 1994 में संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 16 सितंबर को ओजोन परत के संरक्षण के लिए अंतर्राष्ट्रीय दिवस / विश्व ओजोन दिवस के रूप में घोषित किया था। इसी दिन 1987 में ओजोन परत को नष्ट करने वाले पदार्थों पर अंकुश लगाने के लिए मॉन्ट्रियल प्रोटोकॉल पर हस्ताक्षर किए गए थे। इस वर्ष विश्व ओजोन दिवस की थीम है 'मॉन्ट्रियल प्रोटोकॉल - हमें, हमारे भोजन और टीकों को ठंडा रखना है' ।

इस अवसर पर प्रो. प्रधान पार्थ सारथी, पर्यावरण विज्ञान विभाग, दक्षिण बिहार केंद्रीय विश्वविद्यालय, गया, महोदय ने ‘ओजोन परत की वर्तमान स्थिति और इसे संरक्षित करने की आवश्यकता’ पर एक विशेष व्याख्यान दिया। उन्होंने अपने व्याख्यान में वर्ष के विभिन्न महीनों में ओजोन परत की संरचना और ओजोन में भिन्नता पर जानकारी दी। उन्होंने अपनी प्रस्तुति में ओजोन परत के महत्व को विस्तार से बताया और आने वाली पीढ़ियों के लिए इसे संरक्षित करने के महत्व पर ज़ोर दिया। प्रो पार्थ सारथी ने बिहार में ओजोन सांद्रता का एक केस स्टडी भी प्रस्तुत किया।
इस अवसर पर देहरादून जिले के केंद्रीय विद्यालय और नवोदय विद्यालय के स्कूली छात्रों के लिए दो श्रेणियों (कक्षा XI-X) और (कक्षा XI-XII) में ऑनलाइन चित्रकला और निबंध लेखन प्रतियोगिताओं का भी आयोजन किया गया और इन प्रतियोगिताओं में 75 छात्र-छात्राओं ने भाग लिया।
निबंध लेखन प्रतियोगिता में श्रेणी 1 (कक्षा IX-X) में केवी नंबर 2 सर्वे ऑफ इंडिया, देहरादून के नौवीं कक्षा के भुवन वर्मा ने प्रथम, केवी आईआईपी देहरादून की दसवीं कक्षा की मानसी और केवी आईएमए देहरादून की दसवीं कक्षा की छात्रा भूमिका गुप्ता ने क्रमशः द्वितीय और तृतीय पुरस्कार जीता। दूसरी श्रेणी 2 (कक्षा XI-XII) में, केवी नंबर 2 सर्वे ऑफ इंडिया से सुश्री अवंतिका राणा कक्षा XI, केवी एफआरआई देहरादून की बारहवीं कक्षा की छात्रा विजयलक्ष्मी पंचोली और केवी ओएनजीसी देहरादून के ग्यारहवीं कक्षा के छात्र गौरव सिंह ने क्रमशः प्रथम, द्वितीय और तृतीय स्थान प्राप्त किया।
चित्रकला प्रतियोगिता में श्रेणी -1 में जवाहर नवोदय विद्यालय देहरादून की नौवीं कक्षा की छात्रा सुश्री सृष्टि सिंह ने प्रथम पुरस्कार जीता। केवी नंबर 2 सर्वे ऑफ इंडिया, देहरादून की कक्षा IX की छात्रा सुश्री सलोनी पनौली ने दूसरा स्थान हासिल किया और केवी आईआईपी देहरादून के दसवीं कक्षा के छात्र वेदांश यादव ने तीसरा पुरस्कार जीता। श्रेणी 2 (कक्षा XI-XII) में, जवाहर नवोदय विद्यालय देहरादून के कक्षा-XI के छात्र अमन कुमार प्रजापति को पहला पुरस्कार मिला। केवी नंबर 1 सर्वे ऑफ इंडिया, देहरादून से ग्यारहवीं कक्षा की छात्रा ट्विंकल डिमरी ने दूसरा स्थान हासिल किया और केवी ओएनजीसी देहरादून के ग्यारहवीं कक्षा के छात्र आर्यन गुप्ता ने इस श्रेणी में तीसरा पुरस्कार जीता।
कार्यक्रम का संचालन डॉ. एच.एस. गिनवाल, डीन (अकादमिक), वन अनुसंधान संस्थान (सम विश्वविद्यालय) एवं डॉ विजेंद्र पंवार, समन्वयक एनविस ने किया। कार्यक्रम में उप महानिदेशक, सहायक महानिदेशक, श्री एके त्रिपाठी, कुलसचिव, एफआरआई सम विश्वविद्यालय, प्रभागों के प्रमुख, आईसीएफआरई/एफआरआई के वैज्ञानिक, सम विश्वविद्यालय के छात्र, एमएससी/पीएचडी छात्र और केवीएस/एनवी के विद्यार्थी भी उपस्थित रहें।

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *