शहर के बीचों-बीच घर के बाथरूम में कैद हो गया गुलदार

भारत में टाइगर जिंदा तो हैं, लेकिन कब तक...

देहरादून :(बागेश्वर) शहर के बीचों-बीच गुलदार एक मकान के बाथरूम में दिनदहाड़े घुस गया। छत में धूप सेंकने गए लोगों ने उसे देख लिया। आसपास के लोगों ने हिम्मत दिखाकर बाथरूम का दरवाजा बंद कर उसे कैद कर लिया। बाद में वन विभाग की टीम ट्रेंकुलाइजकर पिंजरे में गुलदार को ले गई। नगर के नारायण देव वार्ड निवासी प्रताप सिंह मेहता के घर के बाथरूम में बुधवार की सुबह गुलदार घुस गया। यह नजारा देखकर मकान मालिक ने शोर मचा दिया। पास में रहने वाले राजू दफौटी ने हिम्मत दिखाते हुए डंडे के सहारे बाथरूम का दरवाजा बाहर से बंद कर दिया।

इससे पहले गुलदार आनंद करायत और संतोष सिंह के घर के पास गया। क्षेत्रवासी हीरा देवी ने बताया कि सुबह करीब साढ़े नौ बजे वह छत पर धूप सेंकने गए थी। तभी लोग अचानक बाघ-बाघ चिल्लाने लगे। गुलदार प्रताप सिंह के आंगन में पहुंच गया। इसके बाद गुलदार वहां से चला गया। कुछ ही देर बाद वह दोबारा लौटा और प्रताप सिंह के मकान के बाथरूम में घुस गया। जिसके बाद उसे बाथरूम का दरवाजा बाहर बंद कर कैद कर लिया गया। जिससे क्षेत्रवासियों ने राहत की सांस ली। इसकी सूचना वन विभाग को दी। वन विभाग की टीम ने गुलदार को ट्रेंकुलाइज किया और उसे पिंजरे में कैद कर ले गए।

पिंजरे में डालते वक्त फिर बाथरूम में घुसा गुलदार
गुलदार को ट्रेंकुलाइज करने के बाद वन विभाग की टीम उसे पिंजरे में कैद करने की कवायद कर रही थी। इस बीच लोगों का शोर काफी बढ़ गया। इस दौरान गुलदार पिंजरे में न जाकर दोबारा बाथरूम में घुस गया। प्रभागीय वनाधिकारी बीएस शाही लोगों से शांत रहने की अपील करते रहे। बाद में टीम ने किसी तरह गुलदार को पिंजरे में कैद किया।

शोर सुनकर सहम गया था गुलदार
बागेश्वर। गुलदार जैसे ही रिहायशी इलाके में पहुंचास तो लोगों ने जोर-जोर से चिल्लाना शुरू कर दिया। शोर-शराबे से सहमा गुलदार रिहायश में इधर-उधर भागने लगा। इसी दौरान वह प्रताप सिंह के मकान के बाथरूम में घुस गया।

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *