शीशमबाड़ा में शासन प्रशासन के खिलाफ प्रदर्शन

शीशमबाड़ा में शासन प्रशासन के खिलाफ प्रदर्शन
D.NEWS DEHRADUN पछुवादून जन कल्याण संगठन का शीशमबाड़ा ट्रीटमेंट प्लांट को लेकर आंदोलन जारी है। संगठन ने प्लांट के खिलाफ धरना प्रदर्शन जारी रखते हुए शासन प्रशासन और रैम्को कंपनी के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। संगठन ने आगामी 15अगस्त तक प्लांट से दुर्गंध न रुकने व प्लांट में अधूरे पड़े कार्यों को पूरा न किये जाने की स्थिति में 16 अगस्त से आंदोलन की तैयारी तैयारियों में जुट गया है। संगठन ने 16 अगस्त से व्यापक स्तर पर आंदोलन की चेतावनी दी है।शीशमबाड़ा ट्रीटमेंट प्लांट के खिलाफ पछुवादून जन कल्याण संगठन का आंदोलन 43वें दिन भी जारी रहा। संगठन लगातार शासन, प्रशासन व रैम्को कंपनी के खिलाफ धरना प्रदर्शन कर नारेबाजी कर रहा है। संगठन अब आगामी दिनों में प्लांट से निकलने वाली दुर्गंध व खतरनाक कैमिकल पानी के नाले के रास्ते आसन नदी में जा रहे गंदे पानी को न रोके जाने की स्थिति में आंदोलन की तैयारियों में जुट गया है। पछुवादून जन कल्याण संगठन का कहना है कि लगातार हो रही बरसात से जंगल का पानी प्लांट में घुस रहा है। जहां से प्लांट की गंदगी के साथ नाले का पानी बायांखाला में लोगों के घरों में घुस रहा है। जिससे लोगों के घर तालाब बन गये हैं। घरों में रखा सामान बरबाद हो रहा है। गंदगी के कारण लोगों के बच्चे बीमार हो रहे हैं। जिससे लोगों के सामने संकट खड़ा हो गया है। कहा कि इससे क्षेत्र में महामारी हो सकती है। सचिव रविंद्र भट्ट ने कहा कि जिलाधिकारी के साथ हुई वार्ता में जिलाधिकारी को साफ शब्दों में कह दिया गया है कि हर हाल में पंद्रह अगस्त तक प्लांट से निकलने वाली दुर्गंध को रोका जाय। अन्यथा 16 अगस्त से व्यापक स्तर पर जनांदोलन किया जायेगा। कहा कि लोगों को आंदोलन से जोड़ा जा रहा है। कहा कि किसी भी कीमत पर कूड़े के वाहनों को प्लांट में नहीं घुसने दिया जायेगा। प्रदर्शनकारियों में पारस थापा, एसपी जुयाल, सुधीर रावत, अमित अग्रवाल, बीना बमराड़ा, रुकमणी, जितेंद्र कुमार गुप्ता, प्रेमसिंह नेगी, तीरथ गैरोला, मकरसिंह नेगी, सुनीता सकलानी आदि शामिल रहे।
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *