श्री नित्यानंद स्वामी जन सेवार्थ समिति द्वारा आयोजित आपातकाल की 46 वीं वर्षगांठ के काले अध्याय की स्मृति के अवसर पर लोकतंत्र सेनानियों की वर्चुअल संगोष्ठी का आयोजन किया

देहरादून: 1975 में लगाए गए आपातकाल के काले अध्याय की 46 वीं वर्षगांठ के अवसर पर लोकतंत्र के सेनानियों की व्यथा को सुनकर मा० मुख्यमंत्री श्री तीरथ सिंह रावत ने सकारात्मक सहयोग प्रदान करने का आश्वासन दिया । देहरादून, श्री नित्यानंद स्वामी जन सेवार्थ समिति द्वारा आयोजित आपातकाल की 46 वीं वर्षगांठ के काले अध्याय की स्मृति के अवसर पर लोकतंत्र सेनानियों की वर्चुअल मीटिंग संगोष्ठी के रूप में आयोजित की गयी। वर्चुअल आनलाइन संगोष्ठी में मुख्य अतिथि के रुप में श्री तीरथ सिंह रावत मा०मुख्यमंत्री उत्तराखंड द्वारा लोकतंत्र सेनानियों के सम्मान,सुरक्षा एवं जीविकोपार्जन संबंधी समस्याओं को ध्यान से सुनते हुए सरकार की ओर से सकारात्मक कार्रवाई का आश्वासन दिया। संगोष्ठी का शुभारंभ करते मुख्यमंत्री श्री तीरथ सिंह रावत ने कहा कि हम शीघ्र ही उत्तर प्रदेश, हरियाणा हिमाचल आदि अन्य प्रदेशों से इससे संबंधित एक्ट मंगा कर उसका अध्ययन करेंगे और श्री नित्यानंद स्वामी जन सेवार्थ समिति के पदाधिकारियों को आमंत्रित कर सेनानियों और सरकार के अधिकारियों के साथ बैठक आयोजित कर अधिनियम तैयार करवायेंगे। संगोष्ठी में विशिष्ट अतिथि के रुप में पधारे श्री नरेश बंसल,मा०सांसद राज्यसभा, ने आपातकाल की विभीषिका से रुबरु करवाते हुए शीघ्र ही अधिनियम बनाने का अनुरोध किया।लोकतंत्र सेनानी और वरिष्ठ आयोजक श्री प्रेम बढ़ाकोटी ने मा० मुख्यमंत्री श्री तीरथ सिंह रावत जी को लोकतंत्र सेनानियों की समस्याओं से अवगत कराते हुए तुरंत ही अधिनियम बनाने का अनुरोध किया ।श्री प्रेम बडाकोटी ने कहा अनेक लोकतंत्र सेनानी आज सरकारी दफ्तरों में भटक रहे और कुछ तो दिवंगत भी हो गए ।ऐसी स्थिति में उनके परिवारों की जिम्मेदारी भी हमारी सरकार की ही बनती है। संगोष्ठी के संयोजक रोशन लाल अग्रवाल ने आपातकाल में किये ग्रे उत्पीड़न की गाथा से अवगत करवाते आयोजन की भूमिका से अवगत करवाया। संगोष्ठी में लोकतंत्र के सेनानियों में स्व० जयप्रकाश नारायण के वरिष्ठ सहयोगी डॉ महेश शर्मा, दयाशंकर वार्ष्णेय, शंभावी मिश्रा, आनंद प्रकाश हरबोले, गिरीशचंद्र कांडपाल, कामेश्वर काला, कार्तिकेय रावत, मनोज वर्मा, सत्यदेव गुप्ता, श्रीमती सुधा गुप्ता ,विजय कुमार, विजय शर्मा, ताराचंद गुप्ता,तथा पीयूष निगम, गौरव खंडेलवाल, सरदार तनवीर सिंह आदि उपस्थित रहे । आभार ज्ञापन श्री जन सेवार्थ समिति के संरक्षक इ०जी के मित्तल ने किया । कुल मिलाकर संगोष्ठी से लोकतंत्र सेनानियों का उत्साह वर्धन हुआ। जिससे उन्होंने कहा हमारी पहचान हो पाएगी। समिति की ओर से सभी का धन्यवाद किया गया ।धन्यवाद। भवदीय :- योगेश अग्रवाल,सचिव श्री नित्यानंद स्वामी जनसेवार्थ समिति उत्तराखंड

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *