संजीवनी बना सरकारी स्कूलों के लिए ‘प्रवेशोत्सव’

D.J.S News Dehradun : छात्रों की कमी के चलते बंदी की कगार पर पहुंचे सरकारी स्कूलों के लिए प्रवेशोत्सव संजीवनी साबित हो रहा है। इस शिक्षा सत्र में अब तक प्राथमिक से लेकर माध्यमिक स्तर तक 12 हजार से अधिक नये एडमिशन हुए हैं। टिहरी जनपद में पिछले वर्ष छात्रों की कमी के चलते प्राथमिक वर्ग के 42 व उच्च प्राथमिक वर्ग के 8 सहित कुल 50 सरकारी स्कूलों को निकट के स्कूलों में विलीनीकरण के नाम पर बंद कर दिया गया था। स्कूलों में लगातार गिरती छात्र संख्या को रोकने के लिए शिक्षा विभाग ने प्रवेशोत्सव की शुरुआत की।

14 हजार से अधिक अभिभावकों से किया संपर्क
शिक्षा विभाग ने प्रवेशोत्सव के दौरान जिले के सभी नौ ब्लॉकों में 14 हजार 192 अभिभावकों से संपर्क किया। इस दौरान अभिभावकों से सहयोग की अपील करते हुए अपने बच्चों पर ध्यान देने के साथ स्कूलों की कमियों से भी अवगत कराने का आग्रह किया गया। 

1 अप्रैल से शुरू हुए प्रवेशोत्सव के जरिये अभी तक 12 हजार से अधिक नए छात्रों के एडमिशन हुए हैं। विभाग प्रवेशोत्सव के माध्यम से अभिभावकों के साथ गोष्ठी, बैठक कर उनको अपने बच्चों का एडमिशन सरकारी स्कूलों में कराने के लिए प्रेरित कर रहा है। 
डीसी गौड़, मुख्य शिक्षा अधिकारी टिहरी 
 

कहां कितने नये एडमिशन

ब्लॉकप्राथमिकउ.प्रा. स्तरमाध्यमिक
जाखणीधार    220    347    255
देवप्रयाग    262            640    363
जौनपुर    495            795    691
प्रतापनगर    480    544    446
नरेंद्रनगर    371    656              908
कीर्तिनगर    286    406              222
थौलधार         261    268              310
चंबा    248            305    450
भिलंगना    1222    747          611
कुल       3845     4708        4256

(आंकड़ा 1 अप्रैल से 16 अप्रैल तक के)

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *