सीएम त्रिवेंद्र रावत ने आठ करोड़ के नए पुल पर दरार मामले में जांच के आदेश दिए

D.NEWS DEHRADUN रायपुर-थानो रोड भोपालपानी में हाल ही में बनकर तैयार पुल की अप्रोच रोड और पुल में दरारें पड़ गई हैं। रोड के ब्लाक खिसकने से ऐसा हुआ है। करोड़ों की लागत से बने पुल का निरीक्षण करने पहुंचे सीएम त्रिवेंद्र रावत ने अफसरों की क्लास ली और प्रमुख अभियंता लोनिवि को जांच के आदेश दिए हैं।  थानो रोड भोपालपानी में राष्ट्रीय राजमार्ग की ओर से बनाए गए पुल निर्माण की पोल खुलकर सामने आ गई है। आठ करोड़ की लागत से बने 75 मीटर लंबे पुल के दोनों तरफ की अप्रोच रोड के साथ ही पुल में दरारें आ गई हैं।   सड़कें धंसने के साथ ही पुल की दीवारें भी बाहर आ गई है।   स्थानीय लोगों की शिकायत पर मंगलवार सुबह दस बजे सीएम त्रिवेंद्र रावत ने पुल का निरीक्षण किया। सीएम ने मौजूद लोनिवि प्रमुख अभियंता आरसी पुरोहित, एनएच के मुख्य अभियंता हरिओम शर्मा व अधीक्षण अभियंता राजेश शर्मा से पूछा कि जब पुल का निर्माण चल रहा था तो अधिकारी कहां थे। निगरानी क्यों नहीं की।  सीएम ने मौके पर लोनिवि अफसरों व कार्यदायी संस्था से जुड़े लोगों को कड़ी फटकार लगाई। सीएम ने यह भी पूछा कि क्या उनके ऊपर निर्माण कार्य को जल्द पूरा करने का दवाब था। सीएम बोले, मामले में अधिकारी, कर्मचारी से लेकर ठेकेदार बच नहीं सकते हैं। निर्माण कार्यों में किसी भी प्रकार की लापरवाही व गुणवता में कमी बर्दाश्त नहीं होगी।  सीएम ने यहां लोगों से भी बातचीत की। मुख्यमंत्री ने लोगों को आश्वस्त किया कि इस तरह की लापरवाही के लिए दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा। जांच में सभी तथ्य सामने आने पर दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।  इससे पूर्व सीएम ने रायपुर -थानो मार्ग पर सौंडा सरौली पुल का भी स्थलीय निरीक्षण किया तथा निर्माण कार्यों की जानकारी ली।  मुख्यमंत्री ने अफसरों से सौंडा सरौली पुल को समय पर पूरा करने तथा निर्माण कार्यों की गुणवत्ता बनाए रखने के निर्देश दिए। इस दौरान एनएच रुड़की खंड के अधिशासी अभियंता शैलेंद्र मिश्रा भी मौजूद रहे।

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *