IS-K के ठिकाने पर एयर स्ट्राइक, अमरीका ने लिया काबुल अटैक का बदला

देहरादून: (देवभूमि जनसंवाद न्यूज़) काबुल अमेरिका ने काबुल एयरपोर्ट पर IS-K द्वारा किए गए हमले का ‘बदला’ लिया है। अमेरिका ने इस्लामिक स्टेट के खिलाफ ड्रोन अटैक किया है। इस बात की जानकारी पेंटागन की तरफ से दी गई है। न्यूज एजेंसी AFP ने पेंटागन के हवाले से बताया है कि अमेरिका की तरफ से मानव रहित हवाई हमला अफगानिस्तान के नांगहर प्रांत में किया गया। अमेरिका की तरफ से टारगेट को हिट करने की बात कही गई है। दावा किया गया है हमले में काबुल एयरपोर्ट पर हमले का ‘प्लानर’ मारा गया है।

अमेरिका ने काबुल हवाईअड्डे पर आत्मघाती धमाकों के 48 घंटे से भी कम समय में यह जवाबी कार्रवाई की है। हमले में 169 अफगान और 13 अमेरिकी सैनिकों की मौत हो गयी थी। अमेरिका के सेंट्रल कमान के प्रवक्ता कैप्टन बिल अर्बन ने शुक्रवार को कहा, “अमेरिकी सेना ने इस्लामिक स्टेट-खुरासान (आईएसके) साजिशकर्ता के खिलाफ आज आतंकवाद विरोधी अभियान चलाया। यह मानवरहित हवाई हमला अफगानिस्तान के नांगहर प्रांत में हुआ। शुरुआती संकेत मिले हैं कि हमने लक्षित व्यक्ति को मौत के घाट उतार दिया। हमारे पास किसी भी असैन्य व्यक्ति के न मारे जाने की जानकारी है।”

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन के राष्ट्रीय सुरक्षा दल ने राष्ट्रपति को सूचित किया है कि काबुल में एक और आतंकी हमला होने की आशंका है और अफगानिस्तान की राजधानी में हवाईअड्डे पर सुरक्षा के सर्वोच्च उपाय किए जा रहे हैं। व्हाइट हाउस की प्रवक्ता जेन साकी ने बाइडन की टीम द्वारा राष्ट्रपति को दी गई जानकारी के बारे में विस्तृत विवरण साझा नहीं किया। इससे एक दिन पहले काबुल हवाईअड्डे के पास हुए हमलों में अमेरिका के 13 सैनिक मारे गए थे। साकी ने कहा कि अफगानिस्तान से अमेरिकियों और वहां से निकलने के इच्छुक अफगानों के निकासी अभियान के अगले कुछ दिन अब तक के सबसे जोखिम भरे दिन होंगे।

बाइडेन ने काबुल अटैक के बाद कही थी बदला लेनी की बात
आपको बता दें कि अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने काबुल हवाई अड्डे के पास घातक आत्मघाती हमले के बावजूद अफगानिस्तान से अमेरिकी नागरिकों और अन्य लोगों को निकालने का काम पूरा करने की प्रतिबद्धता जतायी थी। बाइडन ने हमले में मारे गए 13 अमेरिकी सैनिकों की मौत का बदला लेने की प्रतिबद्धता जतायी थी और इसके लिए जिम्मेदार आतंकवादियों से कहा था, “हम तुम्हें मार गिरायेंगे और तुम इसकी कीमत चुकाओगे।” बाइडन ने भावुक होते हुए व्हाइट हाउस से कहा था कि इस्लामिक स्टेट समूह से जुड़़े अफगानिस्तानी संगठन को बृहस्पतिवार के हमलों के लिए दोषी ठहराया गया है जिसमें अमेरिका नागरिकों के साथ ही कई अफगान नागरिक मारे गए।

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *