अब भारत करेगा सर्च अपने ब्राउजर पर; आ रहा है भारत का अपना सर्च इंजन

– भारत में आ रहा है पहला देसी सर्च इंजन
– गणतंत्र दिवस (26 जनवरी) के उपलक्ष्य में किया जा रहा है लॉन्च 
– डेटा सिक्योरिटी तथा प्राइवेसी का है खास ख्याल  
नई दिल्ली।आत्मनिर्भर भारत अभियान अब सांतवे आसमान पर पहुंच गया है, क्योंकि देश का हर एक नागरिक इसे दिल की गहराइयों से अपना रहा है। भारत में बने प्रोडक्ट्स तथा सर्विसेस को बढ़ावा देने के साथ ही हमारे देश के नागरिक इन्हें खुली बाँहों से अपनाने भी लगे हैं। भारत में गुणों की कमी नहीं है, देश के बच्चे-बच्चे में जो हुनर और जस्बा देखने को मिलता है, यह दरअसल हमारे देश की रगों में बहता है। देश द्वारा वोकल फॉर लोकल के प्रति अपनत्व को देखते हुए हमारे युवाओं में भी नई ऊर्जा का सृजन हो रहा है, जो भारत को नई उड़ान भरने के प्रति योगदान देने में कारगार साबित हो रहा है। नई-नई टेक्नोलॉजीस और नई-नई टेक्निक्स अपनाने साथ ही, कैसा हो यदि सर्च इंजन भी हमारे ही देश का हो? जी हाँ, हमारे देश का सर्च इंजन। 

यह बिल्कुल सच है। गुजरात के एक नौजवान ने देशवासियों की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए देश में ही बना प्राइवेट सर्च इंजन बनाया है, जिसे लॉन्च करने का दिन भी भारत को समर्पित कर गणतंत्र दिवस पर तय किया गया है। सरलता से उपयोग किए जाने वाले और तेजी से चलने वाले इस देसी गूगल को QMAMU (क्योंमामू) नाम से उल्लेखित किया गया है, जिसकी सहायता से यूजर को वेब, इमेजेस, वीडियोज, न्यूज, शॉपिंग जैसे कई फीचर्स सरलता से एक ही सर्च इंजन पर उपलब्ध हो जाएंगे। यह सर्च इंजन भारत में बनाया गया पहला सर्च इंजन है, जिसे किसी भी डिवाइस और किसी भी ब्राउजर पर रन किया जा सकता है।    

कैसा हो जब आपके डेटा की प्राइवेसी हमेशा की तरह बनी रहे और आपको ऐसा ब्राउजर मिले जो विश्वसनीय हो? यदि आप भी यही चाहते हैं, तो देर किस बात की? QMAMU बिल्कुल ऐसा ही इंजन है, जिसका हम सालों से इंतजार कर रहे थे। जानकारी के लिए बता दें कि QMAMU हूबहू गूगल की तरह ही कार्य करता है, जो यूजर की पर्सनल इन्फॉर्मेशन या इस प्रकार का कोई भी डेटा कलेक्ट नहीं करता है, यूजर की सर्च हिस्ट्री को भी पूरी तरह प्राइवेट रखता है, और तो और डेटा को अनऑथोराइज्ड यूजर तथा एक्सेस से भी प्रोटेक्ट करता है। इस प्रकार भारत का यह स्टार्ट अप सर्च इंजन आपके पर्सनल डेटा पर कंट्रोल बनाए रखता है। आत्मनिर्भर भारत में हमें यही तो चाहिए कि देश में उपयोग की जाने वाली हर एक वस्तु देश की ही हो। तो चलिए, इसी के साथ खुली बाँहों से स्वागत करते हैं हमारे देश यानि आत्मनिर्भर भारत के पहले सर्च इंजन QMAMU का। चलिए, सेफ डेटा, सिक्योर्ड डेटा के साथ चलते हैं प्राइवेसी की तरफ।

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *