इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट से पहले ब्रायन लारा ने कहा

लंदन। महान बल्लेबाज ब्रायन लारा का मानना है कि वेस्टइंडीज को इंग्लैंड के खिलाफ तीन मैचों की आगामी श्रृंखला में पूर्व नियोजित योजना के अनुसार चलने की जरूरत है और इन मैचों को चार दिवसीय मैचों की तरह समझना होगा क्योंकि मेहमान टीम के पास पांच दिनों तक टिके रहने की क्षमता नहीं है। वेस्टइंडीज के पूर्व कप्तान 51 साल के लारा ने कहा कि वेस्टइंडीज के पास मजबूत गेंदबाजी आक्रमण है लेकिन उनका बल्लेबाजी विभाग चिंता की बात है और उनके ऐसा बयान देने का कारण भी यही है। इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के बीच तीन मैचों की टेस्ट श्रृंखला की शुरुआत बुधवार से साउथम्पटन में जैविक रूप से सुरक्षित वातावरण में होगी। इसके साथ ही कोरोना वायरस महामारी के कारण मार्च में निलंबन के बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की वापसी होगी। बीबीसी स्पोर्ट ने लारा के हवाले से कहा, ‘‘उन्हें (वेस्टइंडीज को) तुरंत दबदबा बनाना होगा। इंग्लैंड को स्वदेश में आसानी से नहीं हराया जा सकता और वे प्रबल दावेदार हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘उन्हें इंग्लैंड पर दबदबा बनाना होगा, मुझे नहीं लगता कि वे पांच दिन तक टिक पाएंगे इसलिए उन्हें इन मैचों को चार दिवसीय मैचों की तरह लेना होगा। उन्हें बढ़त लेनी होगी और इसे बरकरार रखना होगा।’’ वेस्टइंडीज की ओर से 131 टेस्ट में 11953 रन बनाने वाले लारा ने कहा कि मेहमान टीम के लिए इंग्लैंड के हालात से सामंजस्य बैठाना महत्वपूर्ण होगा। विजडन ट्रॉफी अभी वेस्टइंडीज के पास है जिसने पिछले साल कैरेबिया में इंग्लैंड को 2-1 से हराकर इसे जीता था। बायें हाथ के पूर्व बल्लेबाज लारा ने कहा कि वेस्टइंडीज अगर श्रृंखला जीतता है तो यह उसके लिए बड़ी उपलब्धि होगी क्योंकि वह 1988 से इंग्लैंड में टेस्ट श्रृंखला जीतने में नाकाम रहा है। टेस्ट क्रिकेट में 34 शतक जड़ने वाले लारा ने कहा, ‘‘यह ऐसी श्रृंखला है जो पूरी दुनिया में देखी जाएगी और सभी को प्रतिस्पर्धी श्रृंखला की उम्मीद है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘अगर वेस्टइंडीज जीतता है तो यह उन सभी के लिए काफी मायने रखता है। अगर वे टेस्ट श्रृंखला के पहले दिन अच्छा क्रिकेट खेलते हैं, दिखाते हैं कि उनमें इंग्लैंड के खिलाफ प्रदर्शन करने की क्षमता है तो यह महत्वपूर्ण होगा।

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *