बारिश से बेहाल हुई मुंबई, बाढ़ जैसे हालात में फंसे हैं लोग

मुंबई। देश की आर्थिक राजधानी मुंबई लगातार चार दिनों से हो रही बारिश से बेहाल है। भारी बारिश से शहर के कई इलाकों में पानी भरने से भीषण ट्रैफिक जाम हो गया, वहीं रेलवे ट्रैक पर जलभराव से ट्रेनों की रफ्तार पर भी ब्रेक लग गया। एक सरकारी अधिकारी ने बताया कि भारी बारिश के कारण हजारों सरकारी और निजी कर्मचारी काम पर नहीं जा सके। बारिश को लेकर शहर के सारे स्कूल बंद कर दिए गए हैं। वहीं इंदौर-पुणे एक्सप्रेस समेत दर्जनभर ट्रेनें प्रभावित हुई हैं, जबकि लोकल ट्रेनें रद्द कर दी गई हैं। मौसम विभाग ने ठाणे और पालघर में मंगलवार, गुरुवार और शुक्रवार को ‘भीषण बारिश’ की चेतावनी दी है। मुंबई के कई इलाकों में मंगलवार को भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। बृहन्मुंबई नगरपालिका (बीएमसी) ने लोगों को जलभराव वाले इलाकों में वाहन ले जाने से मना किया है। पुलिस ने बताया कि बारिश के चलते 12 जगहों पर दीवार गिर गईं, लेकिन फिलहाल किसी के हताहत होने की खबर नहीं है। रात से हो रही बारिश के कारण बांद्रा कुर्ला कॉप्लेक्स और साउथ मुंबई जाने वाली सड़कों पर भयंकर जाम लग गया। गाड़ियां रेंगती नजर आईं और लोग कई घटों देरी से अपनी गंतव्य पर पहुंच सके।  

मालगाड़ी पटरी से उतरी 

करजात-लोनावाला सेक्शन पर एक मालगाड़ी के डीरेल होने की वजह से मुंबई-पुणे रूट की ट्रेनों पर असर पड़ा है। रूट पर कुछ ट्रेनों को रद्द करना पड़ा। वहीं मुंबई में बारिश की वजह से सभी लाइनों पर लोकल ट्रेनें लेट चलीं। सायन और माटूंगा स्टेशन पर रेलवे ट्रैक पानी में डूब गया और ट्रेनों की रफ्तार बेहद धीमी रही। तेज हवाओं की वजह से वेस्टर्न रेलवे की स्लो लाइन के मरीन लाइंस स्टेशन पर निर्माण कार्य में इस्तेमाल बांस ओवरहेड उपकरणों पर गिर गए। हालांकि फास्ट लाइन पर चर्चगेट व मुंबई सेंट्रल के बीच ट्रेनों के संचालन पर इसका असर नहीं पड़ा। जुहू एयरपोर्ट के रनवे पर भी पानी भरने से विमानों के संचालन में दिक्कतें हुईं। इस दौरान रनवे पर कुछ मछलियां तैरती नजर आईं। कैटफिश मछलियां देखकर एयरपोर्ट अधिकारी और पायलट भी हैरान रह गए।


दो दिन में बारिश दशक में सबसे ज्यादा 

निगम आयुक्त प्रवीण परदेशी ने बताया कि मुंबई में बीते दो दिनों में 540 मिमी बारिश हुई है, जो पिछले एक दशक में दो दिन में हुई सबसे ज्यादा बारिश है। परदेशी ने मुंबई के कई स्थानों पर बाढ़ जैसी स्थिति के पीछे जलवायु परिवर्तन और भौगोलिक स्थिति में बदलाव को जिम्मेदार ठहराया। मुंबई से लगे पालघर जिले में सोमवार सुबह चार से पांच बजे केवल एक घंटे में 100 मिमी बारिश हुई, जबकि मुंबई लोकल के आखिरी स्टेशन दहाणू में बीते 24 घंटे में देश में सबसे अधिक 299 मिमी पानी बरसा। 

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *