हम राष्ट्रपति शासन की नौबत नहीं आने देंगे

मुंबई। महाराष्ट्र में आखिर मुख्यमंत्री बनेगा कौन ? यह सवाल सभी को परेशान कर रहा हैं। लेकिन इसी सवाल के बीच अब राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी की तरफ से एक बयान सामने आया है। दरअसल, राकांपा नेता नवाब मलिक ने कहा है कि अगर शिवसेना फैसला करती है तो हम समर्थन देने के लिए तैयार हैं। उन्होंने आगे कहा कि हम राष्ट्रपति शासन की नौबत नहीं आने देंगे। शिवसेना को बीजेपी ने पांच साल तक अपमानित किया। अब शिवसेना को लग रहा है कि कुंजी हमारे हाथ में है। इसी बीच नवाब मलिक ने कांग्रेस का भी जिक्र कर दिया। उन्होंने कहा कि शिवसेना को लेकर कांग्रेस में कोई अंदरूनी विवाद नहीं है। उनके साथ राकांपा बैठ कर रास्ता निकालेगी लेकिन सबसे पहले शिवसेना को फैसला करना होगा। आपको बता दें कि द टाइम्स ऑफ इंडिया ने साफ किया है कि महाराष्ट्र में राकांपा का समर्थन प्राप्त कर शिवसेना सरकार बना सकती हैं। महाराष्ट्र में भाजपा-शिवसेना गठबंधन के 161 सदस्य निर्वाचित हुए हैं। इनमें से भाजपा के 105, जबकि शिवसेना के 56 विधायक हैं। कांग्रेस के 44 और राकांपा के 54 सदस्यों ने भी चुनाव में जीत दर्ज की हैं।महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर जारी गतिरोध के बीच शिवसेना के वरिष्ठ नेता संजय राउत ने कहा कि राज्य का अगला मुख्यमंत्री उनकी पार्टी से ही होगा। राउत ने कहा कि महाराष्ट्र की राजनीति बदल रही है और न्याय की खातिर लड़ाई में उनकी पार्टी की ही जीत होगी।

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *