गांधी जी एवं पूर्व प्रधानमंत्री शास्त्री जी की जयंती पर्व की तरह मनाई

देवभूमि जनसंवाद देहरादून : राजधानी में आज 2 अक्टूबर 2019 को आज भारत में गांधी व शास्त्री जी की जयन्ती राष्‍ट्रीय पर्व की तरह मनाया जाता है। वही आज इस दिन अहिंसा के पुजारी महात्‍मा गांधी की 150वीं जयंती मना रहा है। वही साथ ही इसी दिन 2 अक्‍टूबर को ही पूर्व प्रधानमंत्री लाल लाल बहादुर शास्त्री की 115 वीं जयंती मानयी गई। वही जिसमें हर स्कूलों में गांधी जयन्ती एक पर्व की तरह मनाया गया। जिसमें आपको बता दें की देहरादून/राजधानी के पछवादून क्षेत्र के राजकीय प्राथमिक विद्यालय जगतपुर ढालावाला, सहसपुर ब्लॉक के स्कूल में गांधी एवं पूर्व प्रधानमंत्री शास्त्री जी की जयंती पर्व की तरह मनाई गई। जिसमें स्कूल की प्रधानाध्यापिका श्रीमती पुष्पा रानी ने स्कूल के सभी छात्रों के साथ पहले स्कूल में ध्वजारोहण किया। वही उसके बाद गांधी व शास्त्री जी के चित्र पर श्रद्धा सुमन पुष्प अर्पित कर उन्हें शत.शत नमन किया। इसी के साथ स्कूल के अन्दर एवं स्कूल के बाहर आस-पास के ग्रामीण क्षेत्रों में स्कूल के बच्चों सहित प्रधान अध्यापिका एवं सहायक अध्यापिका ने मिलकर प्लास्टिक मुक्त अभियान चलाया । जिसमें ग्रामीणों को प्लास्टिक का प्रयोग बंद करने व प्लास्टिक से होने वाली हानियों को बताया। इसी के साथ स्कूल की छात्राओं ने प्रधानाध्यापिका श्रीमती पुष्पा रानी के साथ मिलकर स्वच्छता सफाई अभियान भी किया। वही इस अवसर पर एक वृक्षारोपण भी किया गया तथा इसी के साथ श्रीमति पुष्पारानी ने एक संदेश में बापू के जीवन व शास्त्री की जीवन के बारे में प्रकाश डाला तथा बच्चों को बताया कि आप देश के भविष्य हैं। जिसमें प्रधानाध्यापिका ने बच्चो को बताया गांधी जी का पूरा नाम मोहनदास करमचंद गांधी है । जिसमें सूक्षम परिचय के रूप में आज के दिन 2 अक्‍टूबर 1869 को गुजरात के पोरबंदर में जन्‍मे गांधी ने देश को आजादी दिलाने में महती भूमिका निभाई, अहिंसा पर उनके विचार समूचे विश्‍व को प्रेरित करते हैं। वही उनके जन्‍मदिन को ’विश्‍व अहिंसा दिवस’ के रूप में मनाया जाता है। उन्होनें कहा की इस देश को स्वच्छ रखना आपकी और हमारी सबकी जिम्मेदारी बनती है। वही इस स्वच्छता अभियान को बढ़ावा कैसे दिया जाए इस बारे में भी बच्चों को विस्तार पूर्व बताया गया। प्रधानाध्यापिका ने कहा की आज के इस आधुनिक युग में ईमानदारी एवं हिंसा अहिंसा की डगर पर चलना बहुत कठिन है लेकिन जो इस राह पर चलेगा वह हमेशा ऊंची बुलंदियों पर पंहुचेगा और देश का नाम रोशन करेगा। वही इस दौरान प्रधानाध्यापिका श्रीमतीपुष्पारानी ने स्कूल के बच्चों को स्वास्थ्य के हानिकार चीजों का सेवन न करने की शपथ भी दिलायी गयी। वही इस अवसर पर सहायक अध्यापिका श्रीमती सोमबला नेगी ने भी अपने शब्दों में बच्चों को और ग्रामीणों को स्वच्छता अभियान का संदेश दिया।

बापू व शास्त्री जी जयन्ती पर रा.प्रा.वि. ने प्लास्टिक मुक्त अभियान चलायाः प्रधानाध्यापिका श्रीमतीपुष्पारानी

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *