लोगों के घरों में घुसा बरसाती पानी, तो कई जगहों आवासीय भवनों के ढहे पुश्ते

रुद्रप्रयाग। लगातार हो रही बारिश आम जनता के लिये मुसीबत बन गई है। जगह-जगह पुश्ते ढ़हने से आवासीय भवनों को भी खतरा पैदा हो गया है। जबकि कई मोटरमार्गों पर निकासी नालियों का निर्माण न होने से पानी घरों के अंदर घुस रहा है। तिलवाड़ा-सौंराखाल मोटरमार्ग पर चैरियां में पानी की निकासी न होने के कारण लोगों के घरों में पानी घुस रहा है।लगातार हो रही बारिश आम जनता के लिये मुसीबते पैदा कर रही है। अलकनंदा एवं मंदाकिनी नदी भी उफान पर है। नदि किनारे रहने वाले लोगों को सतर्क रहने को कहा गया है। नदियों के किनारे से कटान जारी है। घाट भी जलमग्न हो गये हैं। वहीं दूसरी ओर ग्रामीण क्षेत्रों को जोड़ने वाले ऊखीमठ-राउलैंक, लमगौंडी-देवलीभणिग्राम, बस्टी-हाट, बसुकेदार-क्यार्क-बरसूड़ी, दयूलाधारबैण्ड-गणेशनगर, सणगू-सारी, रांसी-तलसारी, गुप्तकाशी-कालीमठ, बड़ियारगढ़-धौड़ंगी-सौंराखाल आदि मोटरमार्गों पर मलबा आने से आवाजाही बंद पड़ी हुई है। पीड़ित मुंशी सिंह राणा ने बताया कि तिलवाड़ा-सौंराखाल मोटरमार्ग पर चैरिया में काॅजवे का निर्माण न होने से सड़क का बरसाती पानी उनके घर में घुस रहा है। जिस कारण घर में रखे हुये सामान को भारी नुकसान पहुंच रहा है और स्कूल जाने वाले बच्चों को भी काफी दिक्कतें हो रही हैं। वहीं तहसील रुद्रप्रयाग के राजस्व क्षेत्र सौंदा भरदार के माथगांव में भगवान सिंह राणा के आवासीय मकाने के आगे का पुश्ता बरसात के कारण ढ़ह गया है। जिस कारण भवन को खतरा पैदा हो गया है। भवन कभी भी धराशाई हो सकता है। 

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *