श्रद्धालुओं को अब ज्यादा नहीं चलना पड़ेगा पैदल हरिद्वार कुंभ मेले के लिए

Haridwar Kumbh 2021: Will Kumbh be postponed due to Coronavirus, know this  big information - हरिद्वार कुंभ 2021: क्या कोरोना के चलते टलेगा कुंभ? सामने  आई बड़ी जानकारी... - Jansatta
हरिद्वार कुम्भ

देहरादून : कुम्भ मेले में पहले शिवरात्रि स्नान के दौरान वाहन न मिलने के कारण यात्रिओ को हुई परेशानी को देखते हुए डीजीपी अशोक कुमार ने अगले दोनों स्थानों पर यात्रियों को कम से कम पैदल चलाने की रणनीति तैयार करने को कहा है। उन्होंने स्नान हेतु आने वाले तमाम श्रद्धालुओं के लिए हर तरह की सुविधा मुहैया कराने का दावा किया। 

बीते स्नान से पहले कुंभ मेले की सुरक्षा को देखते हुए पुलिस द्वारा हर की पैड़ी क्षेत्र की ओर आने वाले तमाम रास्तों की बैरिकेडिंग कर दी गई थी। जिसके चलते बाहर से आने वाले यात्रियों को जहां एक ओर वाहन नहीं मिल पाए, वहीं दूसरी ओर यात्री कई कई किलोमीटर पैदल चलकर हरकी पैड़ी पहुंचे। महाशिवरात्रि स्नान में पेश आई दिक्कत अगले स्नान में न हो इसके लिए डीजीपी अशोक कुमार शनिवार को हरिद्वार पहुंचे। जहां उन्होंने सीसीआर सभागार में मेला और जिला पुलिस अधिकारियों की महत्वपूर्ण बैठक ली। 

डीजीपी अशोक कुमार ने कहा कि बीते स्नान में इस तरह की समस्याओं का सामना यात्रियों को करना पड़ा, लेकिन अगले तमाम स्थानों में इन समस्याओं का समाधान निकाला जाएगा। मेला पुलिस की कोशिश है कि यात्री को ज्यादा से ज्यादा 5 किलोमीटर ही पैदल चलना पड़े। केंद्र सरकार द्वारा जारी एस ओ पी का पूरी तरह से पालन कराया जाएगा। साथ ही श्रद्धालुओं को सुरक्षित स्थान कराना भी हमारी  प्राथमिकता है। दूसरे प्रदेशों से आई फोर्स ने कुंभ में आमद करा दी है जरूरी अन्य फोर्स भी इस माह के अंत तक हरिद्वार पहुंच जाएगी। उन्होंने सुरक्षा में लगे अधिकारियों को बातचीत करने के लिए वायरलेस सेट का अधिक से अधिक प्रयोग करने को कहा।

अशोक कुमार ने कहा कि मुख्य स्नान की भीड़ 9 अप्रैल से 15 अप्रैल के बीच आएगी। जिसकी तैयारियां पूरी की जा रही है। इस दौरान श्रद्धालुओं को किसी तरह की कोई दिक्कत पेश नहीं आने दी जाएगी। उन्होंने कहा कि मेले में आने वाली फोर्स को कई बार क्षेत्र की जानकारी नहीं होती, इसके लिए फोर्स को  तमाम जोनल और सेक्टर मजिस्ट्रेट, मौके पर ले जाकर  पॉइंट टू पॉइंट ब्रीफ करेंगे ताकि ड्यूटी के दौरान उन्हें किसी तरह की समस्या का सामना न करना पड़े। 

इस दौरान मुख्य रूप से मेला आईजी संजय गुंज्याल, आईजी कार्मिक वी मुरुगेशन, डीआईजी रेंज नीरू गर्ग, आईजी अंशुमान, डीआईजी विमला गुंज्याल,  एसएसपी सेंथिल अबुदई, एसपी तृप्ति भट्ट, कमांडेंट ददन पाल, कमांडेंट नवनीत भुल्लर, एसएसपी देवेंद्र पिंचा, एसपी जीआरपी मंजूनाथ टीसी, एसपी आयुष अग्रवाल, एसपी प्रदीप राय, सीओ मेला प्रकाश देवली आदि मुख्य रूप से उपस्थित थे।

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *