अपने विधायक महेश नेगी को बचा रही है महिला विरोधी भाजपा

देहरादून।आम आदमी की पूर्व प्रदेश संगठन मंत्री उमा सिसोदिया ने भाजपा पर दुष्कर्म व शारीरिक शोषण के आरोपी अपने विधायक को बचाने का आरोप लगाते हुये विधायक महेश सिंह नेगी के डीएनए टेस्ट व उन्हें पार्टी से निलंबित करने की मांग की है। मीडिया को जारी एक बयान में उमा सिसोदिया ने कहा कि प्रदेश की त्रिवेंद्र सिंह रावत सरकार बेशर्म हो गई है और लगातार अपने बिगड़ैल विधायकों को बचाने में लगी हुई है, चाहे वो उत्तराखण्ड को गाली देने वाले कुंवर प्रणव सिंह चैम्पियन हो या महेश नेगी।  उन्होंने कहा कि महेश नेगी प्रकरण में यह स्पष्ट है कि पुलिस आरोपी विधायक को बचाने के लिये सरकार के दबाव में काम कर रही है और पीड़िता के पक्ष में किसी भी प्रकार की कार्यवाही पुविस द्वारा नहीं की गई है। पीड़िता व उसके परिजनों द्वारा विधायक के डीएनए टेस्ट किये, जाने की मांग पर कोई सुनवाई नहीं की जा रही है।  उमा सिसोदिया ने कहा कि भाजपा का चाल-चरित्र और चेहरा हमेशा से ही महिला विरोधी रहा है। अपने दुष्कर्मी नेताओं को बचाने के लिये भाजपा हमेशा आगे बढ़कर सामने आती रही है फिर चाहे वो कुलदीप सेंगर हो, स्वामी चिन्मयानंद हो, साक्षी महाराज हो या फिर महेश नेगी। उन्होंने कहा कि मातृशक्ति के बलिदान से बने उत्तराखण्ड में महिलाओं का अपमान व शोषण किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। आम आदमी पार्टी महिला शक्ति की अस्मिता की रक्षा के लिये सड़क से सदन तक संघर्ष जारी रखेगी। 

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *