अर्जुन अवार्डी विशेष भृगुवंशी को किया सम्मानित

देहरादून : भारतीय बास्केटबाल टीम के कप्तान अर्जुन पुरस्कार विजेता विशेष भृगुवंशी को दून पहुँचने पर उत्तराखंड बास्केटबाल संघ, खेल जगत से जुड़े लोग व परिजनों ने सम्मानित किया। इस दौरान विशेष ने कहा कि यह पल मेरे जीवन का सबसे खुशी भरा पल है। उत्तरांचल प्रेस क्लब में आयोजित पत्रकार वार्ता में उत्तराखंड बास्केटबाल संघ के सचिव मंदीप ग्रेवाल ने बताया कि भारतीय खेल मंत्रालय ने विशेष भृगुवंशी को बास्केटबाल में उत्क्रष्ट प्रदर्शन करने के लिए अर्जुन पुरस्कार से नाबाजा। 29 अगस्त को राष्ट्रीय खेल दिवस के अवसर पर विशेष को यह सर्वोच्च पुरस्कार मिला। जिसके बाद रविवार दोपहर वह देहरादून लौटे। जहां विशेष को सम्मानित किया गया। इस दौरान विशेष भृगुवंशी ने भविष्य की योजना के बारे में बताते हुए कहा कि वह आगे भी अपना यही प्रदर्शन जारी रखना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि एक खिलाड़ी के जीवन में फिटनेस का अहम रोल होता है।  उन्होंने कहा कि लॉकडाउन ने खिलाड़ियों को बहुत पीछे खिसका दिया है। भले ही घर में रहकर फिटनेस पर ध्यान दिया हो। लेकिन जबतक मैदान में अभ्यास नहीं होता। तबतक खिलाड़ी के अंदर आत्मविश्वास की कमी रहती है। विशेष को सम्मानित करने वालों में पूर्व उप क्रीड़ाधिकारी दिनेश असवाल, शैलजा असवाल, पूर्व राष्ट्रीय खिलाड़ी डीएम लखेड़ा, देवेंद्र सती समेत अन्य मौजूद रहें।

विशेष की अब तक की उपलब्धियां

– वर्ष 2020 में बास्केटबाल में उत्क्रष्ट प्रदर्शन करने के लिए अर्जुन पुरस्कार
– वर्ष 2019 में नेपाल में आयोजित दक्षिण एशियाई खेलों में भारतीय बास्केटबॉल पुरुष टीम का कप्तान के रूप में प्रतिनिधित्व किया तथा भारतीय टीम ने स्वर्ण पदक प्राप्त किया।
– वर्ष 2019 चीन में आयोजित तीन गुणे तीन फीबा एशिया कप में भारतीय पुरुष टीम का प्रतिनिधित्व किया।
– प्रथम भारतीय बास्केटबॉल खिलाड़ी, जिनका चयन ऑस्ट्रेलियन राष्ट्रीय बास्केटबॉल लीग के लिए हुआ है।
– विशेष भृगुवंशी को एशिया के मोस्ट वैल्युएबल खिलाड़ी का अवार्ड भी दिया गया है।
– पांचवीं फीबा एशिया बास्केटबॉल कप 2014 में भारतीय टीम ने विशेष भृगुवंशी की कप्तानी में भारतीय इतिहास में प्रथम बार चीन को पराजित किया तथा इसमें विशेष भृगुवंशी ने सर्वोच्च अंक अर्जित किए।
– विशेष भृगुवंशी एशियाई खेल 2010 तथा 2014, ब्रिक्स खेल ,लूसोफोनिया गेम्स,फीबा एशिया कप तथा साउथ एशियन गेम्स में भारतीय टीम की कप्तानी कर चुके हैं।
– राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में सर्वाधिक पदक प्राप्त करने का रिकॉर्ड है, विशेष ने अब तक नौ स्वर्ण तीन रजत तथा दो कांस्य पदक प्राप्त किया है।
– विशेष भृगुवंशी ने अब तक कुल 7 राष्ट्रीय फेडरेशन कप में प्रतिभाग किया है, जिसमें से 5 बार विशेष को प्रतियोगिता के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी का पुरस्कार भी प्राप्त हुआ है।

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *