केदारनाथ हाईवे पर घंटों तक ठप रही आवाजाही

रुद्रप्रयाग। रुद्रप्रयाग में बारिश का कहर जारी है। मंगलवार दिनभर हुई बारिश के कारण केदारनाथ हाईवे बांसबाड़ा में लगातार बंद होता रहा। जिस कारण आम जनता के साथ ही केदारनाथ आने-जाने वाले तीर्थ यात्रियों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ा। वहीं दूसरी ओर जिला मुख्यालय के नये बस अडडे पर ऊपरी पहाड़ी से भारी-भरकम बोल्डर गिरने से पार्किंग में खड़ा एक वाहन बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हुआ। गनिमत यह रही कि जिस समय बोल्डर गिरे, वह समय सड़क पर कोई नहीं था। वरना एक बड़ी अनहोनी हो सकती थी।लगातार हो रही बारिश अब आम जनता के साथ ही केदारनाथ यात्रा के लिये आफत बनती जा रही है। दो दिनों से जिले में रूक-रूकर हो रही बारिश थमने का नाम नहीं ले रही है। बारिश के कारण केदारनाथ हाईवे पर बांसबाड़ा में लगातार पहाड़ी टूटकर हाईवे पर आ रही है। जिस कारण यातायात बार-बार प्रभावित हो रहा है। मंगलवार सुबह चार घंटे तक बांसबाड़ा में आवाजाही प्रभावित रही। चार घंटे बाद हाईवे को खोला गया, लेकिन दोबारा पहाड़ी टूटने के कारण हाईवे पर आवाजाही बंद हो गई। बांसबाड़ा में वैकल्पिक मार्ग से भी आवाजाही कराई गई, लेकिन वैकल्पिक मार्ग भी बंद हो गया। बांसबाड़ा बरसाती सीजन में नासूर बन गया है। यहां लगातार पहाड़ी टूट रही हैं। वाहन चालक, स्थानीय लोग और यात्री जान जोखिम में डालकर आवाजाही कर रहे हैं। बांसबाड़ा में स्थिति यह बन गई है कि कभी भी कोई बड़ा हादसा हो सकता है।वहीं दूसरी ओर रुद्रप्रयाग जिला मुख्यालय में नये बस अडडे पर सुबह चार बजे के समय बारिश के कारण पहाड़ी से बड़े-बड़े बोल्डर गिर गये। बोल्डर की चपेट में सड़क पर खड़ी एक यूटीलीटी आ गई। वाहन बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया। बोल्डर इतने बड़े थे कि उन्हें किनारे करने के लिये जेसीबी बुलानी पड़ी। जब बोल्डर गिरे उस समय सड़क पर कोई नहीं था। अन्यथा कोई बड़ी अनहोनी हो सकती थी। बस अडडे पर पहाड़ी से लगातार बोल्डर गिर रहे हैं। जिस कारण वाहनों के साथ ही नगरपालिका की कुछ दुकानों को भी खतरा बना हुआ है। इधर, रुद्रप्रयाग शहर के बीच में बहने वाला पुनाड़ गदेरा भी उफान पर आ गया है। गदेरे किनारे बसे लोगों के लिये भी अब खतरा पैदा होने लग गया है। 

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *