डीएम ने जल संस्थान के पम्प गृहों का निरीक्षण किया

नैनीताल। जिलाधिकारी सविन बंसल ने जल संस्थान के पम्प गृहों के साथ ही वर्षाकाल में मस्जिद तिराहे पर होने वाले चोक अथवा ओवरफ्लों सीवरेज लाईन का भी स्थलीय निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने मुख्य पम्प हाउस में सीसीटीवी केमरे लगाने साथ ही पम्प हाउसों में पड़े निष्प्रोज्य सामाग्री की नीलामी करने के निर्देश मौके पर दिये।जिलाधिकारी ने नैनीताल शहर के पेयजल वितवरण प्रणाली की विस्तृत जानकारी ली तथा उपभोक्ताओं के पेयजल मीटर सम्बन्धित शिकायतों को गंभीरता से लेते हुए कार्यदायी संस्था से मीटर ठीक कराने के निर्देश अधिशासी अभियंता जल संस्थान को दिए ताकि उपभाक्ताओं के पानी के बिलों की समस्या दूर हो सके व पानी उपभोग का मापन त्रुटि रहित हो सके। उन्होंने एडीबी द्वारा नैनीताल शहर में बिछाई गई नई मैन पाईप लाईन, टंकी निर्माण, पम्प हाउस निर्माण, वितरण पेयजल लाईन व मीटर स्थापना सम्बन्धित कार्यदायी संस्थाओं के साथ किए गए अनुबन्ध तलब किए साथ ही शीघ्र सम्बन्धितों के प्रबन्ध निदेशकों, सक्षम अधिकारियों के साथ बैठक आयोजित कराने के निर्देश भी मौके पर दिए। उन्होंने कहा कि शहर वासियों को शुद्ध पेयजल वितरित हो,इसके लिए नियमित पानी की जाॅच एवं क्लोरीनाईजेशन कराने के निर्देश भी दिए। उन्होंने पानी की समस्या के निराकरण हेतु कण्ट्रोल रूम में नियमित कर्मचारियों की तैनाती करने व प्राप्त शिकायतों का त्वरित निस्तारण करने के निर्देश भी दिए। श्री बंसल ने कहा कि नैनीताल की सीव्रेज लाईनों को और चुस्त-दुरूस्त किया जाएगा। इस हेतु उन्होंने अधिशासी अभियंता जल संस्थान  व जल निगम को निर्देश दिए कि वे शहर के सीवर लाईनों का निरीक्षण करें व जहाॅ पर अत्यधिक जन संख्या दबाव के कारण सीवर लाईनें चैक अथवा ओवरफ्लो होती हैं, उन्हें चिन्हित कर रिपोर्ट व आगणन प्रस्तुत करें ताकि उन स्थानों पर सीवर लाईनों का व्यास बढ़ा कर दुरूस्त किया जा सके। जिलाधिकारी ने यह भी कहा कि वर्षाकाल में आए दिन शहर के कई स्थानो पर सीवर लाईनों के लीकेज एवं ओवरफ्लों होने की शिकायते मिलती हैं, इसलिए शहर की सीवर लाईनों की नियमित सफाई व मरम्मत अत्यन्त आवश्यक है। उन्होंने अधिशासी अभियंता को निर्देश दिए कि वे ऐसे लीकेज व ओवरफ्लों स्थानों को चिन्हित करते हुए जिन घरों का वर्षा जल सीवर लाईनों से जुड़े हैं को भी चिन्हित करते हुए उनका पानी नालियों में डलवाना सुनिश्चित करें। जिलाधिकारी ने कहा कि जिन घरों का वर्षा जल अभी भी सीवर लाईनों से जुड़ा है,उनके खिलाफ कड़ी कार्यवाही करते हुए अर्थ दण्ड के साथ ही कानूनी कार्यवाही अमल में लाई जाये।निरीक्षण के दौरान उन्होंने मस्जिद से लगे गेट के अन्दर खाली पड़े स्थान पर गन्दगी की सफाई करने के निर्देश अधिशासी अभियंता जल संस्थान को दिए साथ ही लकड़ी टाॅल के आगे चोक नाली की सफाई करने के निर्देश अधिशासी अधिकारी नगर पालिका को दिए। निरीक्षण के दौरान अपर जिलाधिकारी केएस टोलिया, अधीक्षण अभियंता जल संस्थान एएस अंसारी, अधिशासी अभियंता एसके उपाध्याय, सहायक अभियंता डीएस बिष्ट, अधिशासी अधिकारी एके वर्मा आदि उपस्थित थे। 

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *