लाखों के चोरी के सामान के साथ दो आरोपी गिरफ्तार

देहरादून। थाना क्लेमनटाउन पुलिस ने दो आरोपियों को लाखों के चोरी के माल के साथ गिरफ्तार करते हुए चोरी की वारदातों का खुलासा किया है। हैरानी की बात यह है कि चोरी के मामले में पकड़े गए आरोपियों में से एक सीआरपीएफ 6 बटालियन अनंतनाग कश्मीर में तैनात है।           गौरतलब है कि राजेंद्र सिंह निवासी 313 सुभाषनगर थाना क्लेमनटाउन ने थाना क्लेमनटाउन पर एक तहरीर दी की 17 जून  को दिन में कुछ अज्ञात व्यत्तियों द्वारा मेरे घर से 40000 नगद व कुछ सोने की ज्वैलरी चोरी कर ली है।  वादी की तहरीर के आधार पर थाना क्लेमनटाउन पर  धारा-380 के तहत मुकदमा पंजीकृत किया गया। विवेचना से उत्त अभियोग में धारा 454 भा0द0वि0 की बढ़ोतरी की गई। चोरी, नकबजनी की घटना की गंभीरता को देखते हुए एसएसपी के आदेशानुसार,  पुलिस अधीक्षक नगर के निर्देशन एवं क्षेत्रधिकारी सदर के पर्यवेक्षण में थाना क्लेमेंन्टाउन पर घटनाओं का खुलासा करने हेतु पुलिस टीम गठित की गई। पुलिस टीम द्वारा वादी के घर एवं घटनास्थल के आसपास सीसीटीवी फुटेज चैक की गई। घटना के अनावरण हेतु अलग- अलग पुलिस टीमें गठित की गयी। सीमावर्ती जनपदों में अभियुत्तों की तलाश में टीमें तलाश हेतु भेजे गयी। सर्विलान्स हेतु एसओजी टीम की मदद ली गई।  इस बीच मुखबिर ने सूचना दी कि जिन दो  व्यत्तिफयों को आप तलाश कर रहे हैं, वह पिपलेश्वर मंदिर के आसपास संदिग्ध अवस्था में घूम रहे हैं। मुखबिर की सूचना पर थाना क्लेमेंन्टाउन से पुलिस टीम के साथ थाना क्षेत्र में दबिश दी गयी। जिसके उपरांत सीसीटीवी फुटेज में प्रकाश में आए दो संदिग्ध व्यत्तिफयों को पिपलेश्वर मंदिर से नई बस्ती रोड की तरफ जाते समय पकड़ लिया। दोनों अभियुत्तफगणों की जामा तलाशी ली गई तो उनके पास से चुरायी हुयी ज्वैलरी एवं नगद धनराशि प्राप्त हुई। सख्ती से पूछताछ पर इनके द्वारा बताया गया कि हमारे द्वारा पहले डोईवाला क्षेत्र व फिर सुभाषनगर क्लेमनटाउन में बंद घरों में चोरी की थी। अभियुत्तो को उत्त अभियोग में चुराए गयी ज्वैलरी नगदी के साथ गिरफ्रतार किया गया। अभि0गणों से अन्य थानों में चोरी की घटनाओं से सम्बन्धित बरामदा चोरी के माल के सम्बन्ध में सम्बन्धित थाना को सूचना दी गयी। अभियुत्तफगणों को आज न्यायालय पेश किया जा रहा है। आरोपियों की पहचान सुनील कुमार निवासी म0नं0-583 सेक्टर 16 थाना- सेक्टर 16 फरीदाबाद हरियाणा  और मौ0 अखलाक सैफी निवासी-123 आरा मशीनवाली गली तारापुरी लिसाड़ी गेट रोड मेरठ के रूप में हुई जबकि एक आरोपी फरार है जिसकी पहचान संदीप स्वामी उर्फ संजू पंडित निवासी दुकान नील गली मार्केट सर्राफ बाजार घंटाघर थाना दिल्ली गेट जिला मेरठ के रूप में हुई। आरोपियों ने  पूछताछ में बताया गया कि हम लोग अपने अय्याशी के खर्च को पूरा करने के लिए देहरादून, हरिद्वार के बंद घरों में ताला लगा देखकर चोरी करते हैं। अभियुत्तों द्वारा पूछताछ में हरिद्वार के थाना गंगनहर, देहरादून के थाना नेहरू कॉलोनी, थाना डोईवाला, थाना रायपुर में की गई चोरी की घटनाओं को स्वीकार किया गया है। अभियुत्तफों द्वारा पूछताछ में बताया कि चोरी की ज्वैलरी को हम मेरठ (उ0प्र0) के सुनार संदीप उर्फ संजू पंडित को बेच देते हैं, जो हमें ज्वैलरी के अच्छे दाम दे देता हैं। अभियुत्तफ सुनील कुमार द्वारा बताया गया कि मैं सीआरपीएफ 6 बटालियन अनंतनाग कश्मीर में तैनात हूं। आरोपियों का आपराधिक इतिहास खंगाला जा रहा है।

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *