सेवा दल ने किया कृषि विधेयकों का किया विरोध

देहरादून। कांग्रेस सेवा दल ने टर्नर रोड स्थित शिविर कार्यालय में एक बैठक का आयोजन किया। बैठक में किसानों के विरूद्ध लाए गए बिलों का विरोध किया गया। सेवादल के प्रदेश सचिव व महानगर प्रभारी पीयूष गौड़ ने कहा कि केंद्र सरकार किसान विरोधी है। किसानों के हितों की अनदेखी करने वाला यह विधेयक किसानों की जमीन के अधिकारों को खतरे में डालने वाला है। मोदी सरकार यह कानून बनाकर किसानों की कमर तोड़ने की साजिश रच रही है। देश का किसान केंद्र सरकार की कृषि विधेयक से आशंकित है। कहा कि केंद्र सरकार निजी कंपनियों के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य को समाप्त कर खेती किसानों को बर्बाद करने का षड्यंत्र रचा जा रहा है। जबकि कृषि देश के अधिकांश लोगों की आजीविका है। केंद्र सरकार सुधारों के नाम पर कृषि को कॉर्पोरेट्स को सौंप रही है। निजी कंपनियां मनमानी करेंगी और आधार मूल्य का भुगतान नहीं करेंगी क्योंकि उनके पास सरकारी नियंत्रण नहीं है। सरकार ने प्याज को आवश्यक वस्तु अधिनियम से बाहर रखा लेकिन अब यह फैसला निर्यात प्रतिबंध की तरह पलट गया। बैठक में प्रदेश सचिव व महानगर प्रभारी पीयूष गौड़, कांग्रेस उपाध्यक्ष कृष्ण कुमार, सेवादल के उपाध्यक्ष वाहिद हुसैन राव, महानगर सचिव अशोक मल्होत्रा, अकरम, संयुक्त सचिव भूपेंद्र धीमान, सुदामा सिंह, अब्दुल मनान, वार्ड अध्यक्ष विजेंद्र कनौजिया, रामजीलाल, किसान, रामशरण, वार्ड अध्यक्ष अंजू नाहर आदि उपस्थित थे।

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *